Breaking News

शशि थरूर से मिले दिग्विजय सिंह, कहा-हमारी लड़ाई प्रतिद्वंद्वी नहीं है, बल्कि सहयोगियों के बीच एक दोस्ताना मुकाबला है

कांग्रेस के आगामी अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले अटकलों का अंत करते हुए पार्टी के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह बुधवार सुबह नई दिल्ली में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में अपना नामांकन पत्र लेने पहुंचे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने इस दौरान कहा कि मैं आज अपना नामांकन फॉर्म(कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए) लेने आया हूं और संभवत: कल भरूंगा। वहीं कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने आज पार्टी सांसद शशि थरूर से मुलाकात की है।

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने मुलाकात की तस्वीर ट्वीट किया है। जिसमें दिग्विजय सिंह और शशि थरूर एक दूसरे के गले मिलते नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही थरूर ने लिखा कि मैं कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए उनकी उम्मीदवारी का स्वागत करता हूं। हम दोनों इस बात पर सहमत थे कि हमारी लड़ाई प्रतिद्वंद्वी नहीं है, बल्कि सहयोगियों के बीच एक दोस्ताना मुकाबला है। हम दोनों बस इतना चाहते हैं कि कोई भी जीते, जीत कांग्रेस की होगी।

पार्टी के दिग्गज नेता ने बुधवार को चुनाव लड़ने के अपने इरादे का संकेत दिया। पार्टी के कुछ नेताओं का मानना ​​​​है कि यह कदम राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर दबाव बनाने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा था। हालांकि गहलोत ने आज चुनाव लड़ने से साफ इनकार कर दिया। राजस्थान में पार्टी और गहलोत के बीच गतिरोध के बीच यह घटनाक्रम सामने आया है। राष्ट्रीय राजधानी पहुंचने से पहले, मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम भारत जोड़ो यात्रा के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ केरल में थे। सिंह शशि थरूर के खिलाफ भी चुनाव लड़ेंगे।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर भी कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ रहे हैं। वे 30 सितंबर को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव की घोषणा के बाद सबसे पहले शशि थरूर ही चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी। इनके अलावा कांग्रेस प्रमुख की दौड़ में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम भी चल रहा था।