Breaking News

हमारा इतिहास

केरल में बचाओ-बचाओ, कर्नाटक में चाहें खुला मैदान: भोले-भाले हिंदुओं को मिशनरियों के रहम पर नहीं छोड़ सकती सरकारें

शिव मिश्रा कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई से बुधवार (22 सितंबर 2021) को बंगलुरु के आर्च बिशप पीटर मैकाडो की अगुवाई में कैथोलिक बिशप मिले। उन्होंने मुख्यमंत्री के सामने राज्य सरकार के प्रस्तावित जबरन धर्मांतरण विरोधी कानून को लेकर चिंता व्यक्त की। बिशप मैकाडो की अगुवाई वाले डेलीगेशन ने मुख्यमंत्री ...

Read More »

आत्मनिर्भर बनता भारत कब मनायेगा अपना नव वर्ष

राजेश श्रीवास्तव Loading... इन दिनों पूरे देश में हर तरफ नववर्ष का जश्न मनाया जा रहा है। लोग एक-दूसरे को बधाई देने और तोहफे देने के साथ ही धर्म-कर्म, पूजा-पाठ, सैर-सपाटा, पिकनिक, दावतें करके इस नववर्ष का आनंद ले रहे हैं। लेकिन यह देश का दुर्भाग्य है कि हम अपने ...

Read More »

आखिर क्यों पीएम बार-बार कर रहे वन नेशन वन इलेक्शन की बात

राजेश श्रीवास्तव Loading... प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को संविधान दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने एक बार फिर देश के लिए वन नेशन-वन इलेक्शन को जरूरी बताया। पीएम मोदी ने कहा कि देश में हर कुछ महीने में कहीं ना कहीं चुनाव हो ...

Read More »

जेपी और नानाजी: राजनीति के जंगल में शुचिता के द्वीप..!

जयराम शुक्ल अक्टूबर का महीना बड़े महत्व का है। पावन,मनभावन और आराधन का। भगवान मुहूर्त देखकर ही विभूतियों को धरती पर भेजता है। 2 अक्टूबर को गांधीजी, शास्त्रीजी की जयंती थी। 11अक्टूबर को जयप्रकाश नारायण और नानाजी देशमुख की जयंती है, अगले दिन ही डा.राममनोहर लोहिया की पुण्यतिथि। इन सबके ...

Read More »

मरना एक मामूली आदमी का….

असित कुमार मिश्र अब आगे कुछ भी लिखने से पहले साफ़ कर देना चाहता हूँ कि, यह शीर्षक मेरा नहीं है। जहाँ तक याद है, कुछेक साल पहले दिल ने फिर एक बार आवारागर्दी की थी और मुझे पी. एचडी. की तरफ़ मोड़ दिया था। पुराने आचार्यों की बेवफ़ाईयों को ...

Read More »

नहीं जनाब, वो इवेंट नहीं था, वो तो सच्ची श्रद्धांजलि थी…

प्रद्युम्न तिवारी पीएम मोदी का विरोध करने के फेर में कुछ लोगों का दिमाग ही फिर गया है… राजदीप सरदेसाई टीवी डिस्कशन के दौरान इशारों ही इशारों में अटल जी की शवयात्रा को भी मोदी सरकार का इवेंट साबित करने की कोशिश कर रहे थे, राजदीप अकेले नहीं हैं अपने ...

Read More »

सच्ची श्रद्धांजलि दी है तो फिर करिये अटल बनने का प्रयास

राजेश श्रीवास्तव बीते गुरुवार को जब भारत र‘ पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निर्वाण हुआ तो पूरा देश स्तब्ध हो गया। सभी जगह से श्रद्धांजलि व शोक व्यक्त करने वालों का तांता लग गया। सभी ने अपने-अपने तरीके से दुख व्यक्त किया। यह स्वाभाविक भी था। वह ऐसा कृतित्व ...

Read More »