Breaking News

नोटबंदी में बड़ा घोटाला, सरकार वापस ले फैसलाः केजरीवाल

kejiriblackनई दिल्ली। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार को फिर निशाने पर लेते हुए इसे एक बड़ा घोटाला करार दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार को 500 और 1000 के नोट बदलने के फैसले को वापस लेना चाहिए।

शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल ने कहा कि मोदी सरकार ने ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ काले धन के खिलाफ नहीं बल्कि आम जनता की छोटी-छोटी बचत पर की है। उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे जो सबूत सामने आ रहे हैं, वह बड़े घोटाले की ओर इशारा करते हैं। अपने दावे के समर्थन में उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक बिजनस चैनल का फुटेज भी दिखाया।

Arvind Kejriwal is just trying to degrade this initiative taken by govt, can he validate any of his claim: Satosh Kumar Gangwar(MoS,Finance) pic.twitter.com/VwNK4lS14P

— ANI (@ANI_news) November 12, 2016 />

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि बीजेपी के लोगों को नोटबंदी का पता पहले ही चल गया था। उन्होंने कहा, ‘8 नवंबर से पहले मोदी जी ने अपने दोस्तों और बीजेपी के लोगों को सतर्क कर दिया था और उन्होंने अपना माल ठिकाने लगा दिया। मीडिया में यह खबर दिखाई जा रही है कि पिछले एक क्वार्टर में बैंको में बड़े पैमाने पर पैसा जमा किया गया, जिससे बहुत बड़ा शक पैदा होता है। जुलाई से सितंबर के बीच बड़े स्तर पर पैसे जमा करवाए गए, जबकि कई महीनों से डिपॉजिट नीचे जा रहे थे, यह पैसा किसका पैसा था?’

दिल्ली के सीएम ने कहा कि इस पूरी कवायद से काले धन का सिर्फ री-डिस्ट्रिब्यूशन हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘डॉलर ब्लैक में मिल रहा है, जिसके पास काला धन है, वह डॉलर खरीद रहा है, लोग ब्लैक से सोना खरीद रहे हैं, प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं। बहुत बड़े स्तर पर काला बाज़ारी शुरू हो गई है।’

Loading...

बैंक और एटीएम के बाहर लगी लोगों की लंबी लाइनों को लेकर भी केजरीवाल ने मोदी पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि यह देश की आम जनता पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ है, जिन्होंने थोड़ा थोड़ा पैसा जमा कर रखा था।

केजरीवाल ने पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से तीन सवाल किए। उन्होंने पूछा, ‘आपकी नजरों में काला धन किसके पास है- अंबानी, अडानी, बादल, सुभाष चंद्रा, शरद पवार के पास या आम लोगों के पास। उन दोस्तों के नाम सार्वजनिक किए जाएं जिन्हें पहले से फैसले की जानकारी थी। बड़े स्तर पर जो कालाबाजारी चल रही है, उसका कमीशन किसके पास जा रहा है।’

मोदी सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए केजरीवाल ने कहा कि इस पूरी कवायद के पीछे सरकार की नीयत में खोट है। उन्होंने 1000 और 500 के नोट पर लगे बैन के फैसले को वापस लेने की मांग की।

बाजारों में पदयात्रा करेंगे केजरी, सिसोदिया
नोटबंदी को लेकर केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया बाजार में पदयात्रा करेंगे। सिसोदिया चांदनी चौक व खारी बावली जाएंगे, जबकि दोपहर बाद मुख्यमंत्री गांधी नगर व लक्ष्मी नगर का दौरा करेंगे। दोनों कारोबारियों से बातचीत कर उनकी समस्याएं सुलझाने की कोशिश करेगी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *