Breaking News

आर्थिक आपातकाल वाली मैडम को लग गया 800 करोड़ रुपए का चूना?

mayawati-up-newलखनऊ। नोट बंदी के बाद बसपा की आपात बैठक में बैगों के आने जाने को लेकर सोशल मीडिया के कई पोस्ट वायरल हो रहे हैं। कई लोगों ने लिखा कि पीएम मोदी के फैसले से बसपा में ज्यादा बेचैनी है क्योंकि इसके 800 करोड़ रुपए डूब गए है। यह सभी पैसे उसने टिकट के नाम पर प्रत्याशियों/विधायकों से वसूले थे। इसलिए मायावती आर्थिक आपातकाल का रोना रो रही हैं। हालांकि, कई लोग बसपा के फेवर में भी हैं और इसे रूटिन बैठक बता रहे हैं।
सोशल मीडिया पर एक फॉलोवर ने लिखा कि मैडम जी की पार्टी ने 403 प्रत्याशियों से दो से तीन करोड़ लेकर टिकट बांटा। मैडम 500-1000 के नोट सहेज रही थी कि नोट बंद हो गए। दौलत को रद्दी में बदलते देख मैडम का नया फरमान जारी हुआ और सभी प्रत्याशियों को उनके पुराने बैग वापस देकर नए बैग लाने का हुकुम सुना दिया गया।
वहीं, किसी ने लिखा कि मायावती इकलौती राजनीतिक हस्ती हैं, जो आर्थिक आपातकाल चिल्ला रही हैं। इससे साफ होता है कि उनके सारे नोट अब किसी काम के नहीं रहे और दौलत की बेटी अब रद्दी को लेकर आंसू बहा रही है।
आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर यह पोस्ट उस समय वायरल हुए जब मायावती ने मोदी पर इल्जाम लगाते हुए कहा कि देश में आर्थिक आपातकाल लगा दिया गया है। मायावती पर पैसे लेकर टिकट देने का कई बार आरोप लग चुका है।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *