Breaking News

कोलकाता में RSS के मुखिया मोहन भागवत: दुर्गापुर में पार्टी वर्कर के घर धमाका, TMC ने बीजेपी को बताया जिम्मेदार

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। उससे पहले जारी राजनीतिक हिंसा के बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत दो दिन के दौरे पर कोलाकाता पहुँचे हैं। इससे पहले पश्चिम बर्धमान जिले के दुर्गापुर से हिंसा की घटना सामने आई थी।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़ शुक्रवार (11 दिसंबर 2020) रात दुर्गापुर में सत्ताधारी टीएमसी के एक कार्यकर्ता के घर आग लग गई। पार्टी ने फायर बम फेंकने का आरोप बीजेपी पर लगाया है।

टीएमसी कार्यकर्ता के अनुसार, “हम एक घर में बैठे थे तभी हमारे बीच एक फायरबॉम (firebomb) फेंका गया। इस हमले की वजह से एक गाय घायल हो गई। मुझे लगता है कि भाजपा कार्यकर्ता इस बात को लेकर गुस्सा हैं कि मैं टीएमसी कार्यकर्ता हूँ और यहाँ के लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय हूँ।” वहीं दूसरी तरफ भाजपा कार्यकर्ताओं ने टीएमसी के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

भाजपा कार्यकर्ता ने इस घटना पर अपना पक्ष रखते हुए कहा, “हमारी पार्टी के कार्यकर्ता वहाँ पर आग बुझाने में मदद करने के लिए गए थे। यह नियम बन गया है कि प्रदेश के भीतर होने वाली किसी भी तरह की अव्यवस्था के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहरा दिया जाए। हमें उम्मीद है कि घटना के असल षड्यंत्रकारियों पर कार्रवाई होगी। हमें पूरा भरोसा है कि आगामी विधानसभा चुनावों में इस दमनकारी सरकार का अंत होगा।”

इन सब के बीच आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत भी बंगाल की राजधानी स्थित संगठन के कार्यालय पहुँचे हैं। उनका यह दौरा दो दिवसीय होगा। प्रदेश में जारी सियासी गर्मागर्मी के बीच इस दौरे को बेहद अहम माना जा रहा है।

गौरतलब है कि गुरुवार (दिसंबर 10, 2020) को दक्षिण 24 परगना में एक कार्यक्रम के लिए डायमंड हार्बर की ओर जाते वक़्त बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला हुआ था। इस हमले में बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर ईंट फेंकी गई थी। उन्होंने वीडियो साझा करते हुए पूरी घटना की सूचना दी थी।

इस घटना पर कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा था, “बंगाल पुलिस को पहले ही राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के कार्यक्रम की जानकारी दी गई थी। लेकिन एक बार फिर बंगाल पुलिस नाकाम रही। सिराकोल बस स्टैंड के पास पुलिस के सामने ही TMC के गुंडों ने हमारे कार्यकर्ताओं को मारा और मेरी गाड़ी पर पथराव किया।” काफिले पर हुए हमले को लेकर बंगाल पुलिस ने कहा था कि किसी को कुछ नहीं हुआ है और सभी लोग सुरक्षित हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *