Wednesday , January 27 2021
Breaking News

Kanpur: ‘Love Jihad’ के लिए बांधा कलावा, इन 11 लड़कियों की जिंदगी ऐसे बना दी नरक

लखनऊ। ये देश में ‘लव जेहाद’ (Love Jihad) की साजिश का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट कानपुर है. कानपुर में लव जेहाद का शिकार हुए 11 लड़कियों की जिंदगी अब नारकीय बनी हुई है.

लव जेहाद (Love Jihad) के लिए फतेह खान ने लगाया टीका, बांधा कलावा
इस परिवार का आरोप है, कि कानपुर का फतेह खान उनकी बेटी को आर्यन मल्होत्रा बनकर मिला. फतेह खान ने अपनी धार्मिक पहचान छिपाने और LOVE जेहाद की साजिश के लिए टीका भी लगाया और कलावा भी बांधा. ऐसा करके उसने खुद के हिंदू होने का भरोसा दिलाया.

खुद को बबुआ बताकर मिला नफीस
इसके बाद जी न्यूज़ की टीम कानपुर में लव जेहाद (Love Jihad) की शिकार एक दूसरी पीड़ित के घर पहुंची. यहां पीड़ित ने बताया कि नफीस शाह ने उसे अपना नाम बबुआ बताया. बबुआ उसे दोस्ती करने के बाद घर ले जाने लगा.  एक दिन धोखे से मौलवी को बुलाकर निकाह कर लिया. पीड़ित के मुताबिक बबुआ बना नफीस उसे धोखा देने के लिए अपनी पत्नी को भी अपनी बहन बताता था.

लव जेहाद में नफीस की पत्नी भी रही शामिल
पीड़िता ने कहा,’ वह अपने आपको हिंदू बताता था. एक दिन उसने कहा कि चलो हम तुम्हें अपनी बहन के घर ले चल रहे हैं. हम गुस्से में थे, उसकी बहन के यहां गए. लेकिन बाद में पता चला उसकी बहन नहीं बल्कि उसकी बीवी थी. उसकी पहले से तीन शादियां हो चुकी थी. फिर उसने कहा कि मुझसे शादी करोगी. कई दिन तक तो हमने उससे कहा कि नहीं करेंगे. फिर उसने काजी को बुलाया. उसके कुछ आयतें पढ़ी. तब हमें पता चला कि वह मुसलमान है. उसने हमें वहीं कैद कर लिया. एक दिन हमें उसका पुराना फोन पड़ा हुआ मिल गया. हमने पापा को फोन कर दिया. जिसके बाद हम आजाद हो सके.’

सहेली रिजवाना ने ही हिंदू लड़की को फंसाया
पीड़िता के मुताबिक उसे नफीस शाह की सच्चाई उसके आईकार्ड से पता चली. पीड़िता के अनुसार उसे लव जेहाद (Love Jihad) में फंसाने वाली कोई और नहीं बल्कि उसकी सहेली रिजवाना थी. रिजवाना ने ही नफीस को बबुआ बताकर उसे मिलवाया था.  यहां भी लव जेहाद की वही साजिश थी. कानपुर का मुख्तार लव जेहाद करने के लिए राहुल सिंह बन गया था.

Loading...

लव जेहाद के लिए मुख्तार ने धरा राहुल सिंह का रूप
पीड़ित परिवार ने बताया कि राहुल सिंह बने मुख्तार ने उनकी बेटी को हिंदू होने का विश्वास दिलाया था. वह हाथ में कलावा बांधता था और उनकी बेटी को भरोसा दिलाने के लिए मंदिर भी ले जाता था. वह उनकी बेटी को फंसाने से पहले एक और हिंदू लड़की से ऐसे ही छल करके निकाह कर चुका था. कानपुर के समाजिक संगठनों के मुताबिक यहां लव जेहाद (Love Jihad) के लिए मुस्लिम युवक नाम भी बदलते हैं और धोखा देने के लिए हिंदू रीति-रिवाज़ों का इस्तेमाल भी करते हैं.

कानपुर में 14 पीड़ित परिवारों ने दी शिकायत
कानपुर में पुलिस को पीड़ित परिवारों की ओर से लव जेहाद (Love Jihad) की 14 शिकायतें मिली थी. इनमें से गोविंदगंज में 2, फजलजंज में 1, बाबूपुरवा में 1, कल्याणपुर में 1,पनकी में 1, चकेरी में 1, किदवई नगर में 2 और और नौबस्ता से 5 शिकायतें थीं. लेकिन इन 14 मामलों में 11 केस ऐसे मिले, जिनमें साजिश करके लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराया गया. इन 11 मामलों में शामिल 13 लड़कियों में 3 बालिग थी जिन्होंने अपनी मर्जी से शादी की थी, बाकी 8 लड़कियां नाबालिग हैं. इन लड़कियों का शारीरिक शोषण किया गया. अब नाबालिग से जुड़े मामलों में 8 आरोपी जेल भेजे जा चुके हैं.

लव जेहाद (Love Jihad) के पैटर्न का हुआ खुलासा
कानपुर में लव जेहाद (Love Jihad) की साजिश के पैटर्न का भी खुलासा हुआ है. इस साजिश के शिकार ज्यादातर परिवारों की बेटियां ऐसे परिवारों से थीं, जो ग़रीब थे. उन्हें हिंदू नाम रखकर शादी के बहाने फंसाया गया.
रिपोर्टर :- क्या नाम है आपका
जवाब :- शिवम
रिपोर्टर :- सही नाम
जवाब :- शिवम तोमर
रिपोर्टर :- आपका नाम क्या है?
जवाब :- अमन चौधरी
रिपोर्टर :- अभी तो ये दानिश कह रह थे आपका नाम
जवाब :- कौन? इसका नाम दानिश है
रिपोर्टर :- आपका क्या नाम है
जवाब :- घर का नाम दानिश है

आपस में एक-दूसरे के संपर्क में थे ‘लव जेहादी’
कानपुर में लव जेहाद (Love Jihad) की साजिश पर खुलासा ये भी हुआ है कि इस साजिश के 4 आरोपी एक दूसरे से जुड़े थे. चारों एक दूसरे से बातें करते थे. ये एक संगठित साजिश का संकेत भी हो सकता है. इसे देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से लव जेहाद के खिलाफ पेश किया गया अध्यादेश ऐसे मामलों को रोकने का एक बड़ा हथियार बन सकता है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *