Breaking News

13 वें ऑटो एक्सपो का ग्रेटर नोएडा में आगाज, गाड़ियों की लांचिग शुरू

karsग्रेटर नोएडा। चमकती गाड़ियों के बीच देश का अब तक का सबसे बड़ा ऑटो एक्सपो आज से शुरू हो गया। इस एक्सपो के शुरूआती दो दिनों के दौरान 80 से अधिक नए माडल पेश किए जाएंगे। आम जनता के लिए 5 फरवरी से खोला जाएगा। आयोजकों को भरोसा है कि यह भारत का ही नहीं बल्कि दुनिया की एक बड़ी ऑटो प्रदर्शनी के तौर पर स्थापित होगा। दुनिया के ऑटोमोबाइल उद्योग के लिए ग्रेटर नोएडा में आयोजित हो रहे इस एक्सपो की अहमियत इस बात से समझी जा सकती है कि मीडिया के सामने पहले दो दिनों में 80 नए वाहन लांच होंगे।

अभी तक मारूती, जरनल मोटर्स एव हुंडई की गाडियो की लांचिग हो चुकी है। ऐसे समय जब दुनिया के तमाम देशों में कारों की बिक्री घट रही है, कार कंपनियों की नजरें भारतीय बाजार पर टिकी हुई है। माना जा रहा है कि वर्ष 2020 तक भारत में सालाना 60 लाख पैसेंजर कारों की बिक्री होगी। इस साल 27-28 लाख पैसेंजर कारों की बिक्री की संभावना है।

ऑटो एक्सपो 2016 में गाड़ियों के हर तरह के कद्रदानों के लिए कुछ न कुछ न है। अगर आप पहली बार कार खरीदने की योजना बना रहे हैं तो मारुति सुजुकी, हुंडई, टाटा मोटर्स, रेनो के पैवेलियन में जरूर जाएं। मारुति सुजुकी की मौजूदा कारों के अलावा चार मीटर से कम वर्ग में लांच की जाने वाली कंपनी की नई कार का नजारा देखें। टाटा मोटर्स की नई छोटी कार जीका (कंपनी ने यह नाम हटाने का फैसला किया है लेकिन अभी नया नाम नहीं दिया है) भी इसमें पहली बार दर्शकों के लिए रखी जा रही है। इसी तरह से भारतीय ग्राहकों के लिए खासतौर पर विकसित की गई रेनो की नई छोटी कार भी आपकी पसंद हो सकती है।

अगर आप दोपहिया वाहन खरीदने की योजना बना रहे हैं तो हीरो मोटर्स के पैवेलियन में कंपनी की एक दर्जन नई बाइक जरूर देखिए। इसके अलावा हीरो की भारतीय बाजार में खूब टक्कर देने वाली कंपनी होंडा भी आधे दर्जन नई बाइक व स्कूटरों में भी आप आने वाले उत्पादों का अंदाजा लगा सकते हैं। टीवीएस की नई कम्यूटर बाइक का भी सभी को इंतजार है। पिछले दो वर्षो में स्कूटरों की बिक्री में काफी तेज बढ़ोतरी को देखते हुए देश की दोपहिया कंपनियों की तरफ से दो दर्जन नए स्कूटरों के मॉडल पेश करेंगी। इसमें से कुछ अगले कुछ महीनों के भीतर ही देश की सड़कों पर दौड़ने लगेंगी।

Loading...

देश के कार बाजार में हाल के दो वर्षो में अगर किसी वर्ग में वाहनों की बिक्री बढ़ी है तो वह स्पेशल यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) का वर्ग है। कहने की जरूरत नहीं कि इस बार देशी-विदेशी कंपनियों की तरफ से कम से कम 10 नए मॉडल उतारने की तैयारी है। मारुति की विटारा ब्रेजा, हुंडई की नई कॉम्पैक्टर एसयूवी, होंडा की बीआर-वी, डैटसन की गो-क्रॉस और टाटा की नेक्सन प्रमुख हैं। इसके अलावा मर्सिडीज बेंज व ऑडी की नई एसयूवी को भी देख सकते हैं। जाहिर है कि ये दोनों कंपनियां प्रीमियम वर्ग में एसयूवी उतारेंगी। अगर महंगी कारों के शौकीन हैं तो यहां बहुत कुछ देखने को मिलेगा। जीप की भारत में लांच की जाने वाली एसयूवी यहां देख सकते हैं। बीएमडब्ल्यू के पैवेलियन में 22 मॉडलों को पेश किया जाएगा। बीएमडब्ल्यू पहली बार इतने बड़े पैमाने पर भारत में उत्पादों को दिखाने जा रही है और इसकी योजना इनमें से अधिकांश मॉडलों को यहां उतारने की भी है। मर्सिडीज की तरफ से अगले एक वर्ष में लांच की जाने वाली 12 कारों को भी यहां देखा जा सकता है।

पर्यावरण संबंधी मुद्दे जैसे ऑटोमोबाइल उद्योग को प्रभावित करने लगे हैं, उससे निपटने के लिए उद्योग जगत क्या करने जा रहा है, इसे देखने का मौका भी एक्सपो में मिलेगा। टोयोटा, होंडा, मर्सिडीज, हुंडई नई तकनीकी पर आधारित वाहनों को प्रदर्शित करने जा रही हैं जो आने वाले दिनों में कार उद्योग की दशा व दिशा तय करेंगे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *