Breaking News

उत्तर प्रदेश में बीजेपी को होगा फायदा, CM पद के लिए अखिलेश पसंदीदा उम्मीदवार-सर्वे

modi-akhileshनई दिल्ली। यूपी में पिछले महीने एसपी के अंदरूनी झगड़े का सीधा फायदा बीजेपी को होते हुए दिखाई दे रहा है। एबीपी न्यूज-सिसरो द्वारा यूपी में किए गए एक त्वरित सर्वे में एसपी में सीएम अखिलेश यादव और चाचा शिवपाल यादव के बीच तनाव का फायदा बीजेपी लेती हुई दिख रही है। हालांकि सीएम पद के लिए अखिलेश सबसे पसंदीदा उम्मीदवार के तौर पर उभरे हैं।

26-28 अक्टूबर के बीच कराए गए इस सर्वे में पांच विधानसभा सीटों पर कुल 1500 लोगों से कई सवाल पूछे गए। जब लोगों से पूछा गया कि एसपी के अंदरूनी झगड़े का फायदा किसे होगा? तब 39% लोगों ने कहा कि इससे बीजेपी को फायदा होगा। वहीं 29% लोगों ने इसका फायदा बीएसपी को मिलने की बात कही। कांग्रेस के लिए यूपी में हालात खराब दिख रहे हैं और इस सवाल के जवाब में केवल 6% लोगों ने कहा कि इसका फायदा कांग्रेस को मिलेगा। इस सर्वे के बाद बीजेपी और बीएसपी को यूपी में संजीवनी मिलती दिख रही है।

गौरतलब है कि पिछले महीने सीएम अखिलेश और शिवपाल के बीच हुए झगड़े में पार्टी की काफी किरकिरी हुई थी। झगड़े के कारण पूर्व महासचिव रामगोपाल यादव को एसपी से निकाल दिया गया वहीं अखिलेश के करीबी माने जाने वाले मंत्री पवन पांडेय को भी पार्टी से निकाल दिया गया। अखिलेश और शिवपाल के झगड़े के कारण एसपी दो धड़ों में विभाजित हो गई थी।

एसपी और खासकर अखिलेश इस झगड़े के बावजूद विजेता बनकर उभरे हैं। राज्य का अलगा सीएम कौन होना चाहिए? इस सवाल पर 31% लोगों ने अखिलेश का नाम लिया। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती को 27% लोगों ने बतौर सीएम के लिए पसंद किया वहीं बीजेपी के योगी आदित्यनाथ को 24% लोगों ने सीएम के रूप में पसंद किया है। इस नतीजे से एक बात तय है कि एसपी परिवार के झगड़े में अखिलेश को सबसे ज्यादा फायदा होता दिख रहा है।

Loading...

जब लोगों से यह सवाल पूछा गया कि क्या अखिलेश को अलग पार्टी बनानी चाहिए? इसपर 55% लोगों ने कहा कि अखिलेश को अलग पार्टी नहीं बनानी चाहिए। 19 % लोगों ने कहा कि अखिलेश को अलग पार्टी बनानी चाहिए और 26 फीसदी लोगों ने इस बारे में कोई राय जाहिर नहीं की।

एसपी के झगड़े में किसकी छवि को बट्टा लगा है? इस सवाल पर 30% लोगों ने माना कि एसपी के झगड़े से पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव की छवि को नुकसान पहुंचा है। वहीं 16% लोगों ने कहा कि इससे अखिलेश की छवि को नुकसान पहुंचा है, लेकिन 43% लोगों ने कहा कि इससे मुलायम-अखिलेश दोनों की छवि को नुकसान हुआ है।

पिछले महीने यूपी की राजनीति में भूचाल ला देने वाले इस झगड़े की जड़ में कौन है? इस सवाल पर 43% लोगों ने इस झगड़े की जड़ शिवपाल सिंह यादव को माना। 15% लोगों ने इसके लिए अमर सिंह को जिम्मेदार माना। 3 फीसदी लोगों ने रामगोपाल यादव को एसपी में झगड़े की जड़ माना। इस सर्वे के बाद जहां बीजेपी और बीएसपी को संजीवनी मिलती दिख रही है वहीं अखिलेश एसपी में विजेता के तौर पर उभरते दिखाई दे रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *