Breaking News

सेना का हौसला बढ़ाने पहुंचे मोदी, जवानों के हाथों खाई मिठाइयां

modi-in-himachalनई दिल्ली। एलओसी और पाक से सटे इंटरनैशनल बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने दिवाली के मौके पर सेना के जवानों का हौसला बढ़ाने का फैसला किया। मोदी रविवार को हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले पहुंचे। यहां वह आईटीबीपी, भारतीय सेना के जवानों से मिले। तस्वीरों में मोदी जवानों से बातचीत करते नजर आते है। उन्होंने जवानों को मिठाई खिलाई और उनके हाथ से मिठाई भी खाई। तस्वीरों में मोदी और जवान, बेहद खुश नजर आए। बता दें कि मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में भी सेना के जवानों की तारीफ की थी। मोदी ने देशवासियों से अपील की थी कि वे यह दिवाली सेना के जवानों को समर्पित करें, जिनकी वजह से हम शांतिपूर्ण ढंग से त्योहार मना पा रहे हैं।

जवानों को किया संबोधित
मोदी ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा, ‘सबका मन करता है कि दिवाली अपनों के साथ मनाएं। तभी मैं अपनों के बीच आया हूं।’ मोदी ने कहा कि जब गुजरात में भूकंप आया था तो उन्होंने 2001 की दिवाली भूकंप पीड़ित परिवारों के साथ मनाई थी। मोदी ने जवानों की तारीफ करते हुए कहा, ‘जब आप जागते हैं तो वे लोग सोते हैं। अगर आप न जागते तो उनके नसीब नींद भी नहीं हो सकती।’ मोदी ने बताया कि किस तरह उनके आह्वान पर करोड़ों लोगों जिनमें सुपरस्टार, खिलाड़ी, राजनेता, व्यापारी और किसान शामिल हैं, ने जवानों के लिए दीये जलाए। मोदी ने जवानों को यह भी बताया कि किस तरह उन्होंने वन रैंक, वन पेंशन की योजना लागू करने का वादा निभाया।

गांववालों से मिले
मोदी सुमड़ो के नजदीक चंगो गांव भी रुके। यह उनके पूर्व निर्धारित कार्यक्रम में शामिल नहीं था। यहां उन्होंने आम लोगों से मुलाकात की। पीएम को अपने बीच पाकर आम लोग शुरुआत में चौंक गए। ऐसा पहली बार नहीं है जब पीएम मोदी ने सेना के साथ दिवाली मनाई है। 2015 में वह सेना के जवानों के साथ दिवाली मनाने अमृतसर पहुंचे थे। 2014 में वह श्रीनगर के बाढ़ पीड़ित इलाकों में गए थे। पिछले दिनों मोदी ने सेना के जवानों का हौसला बढ़ाने के लिए ‘संदेश टू सोल्जर्स’ अभियान शुरू किया था। इसके तहत उन्होंने देशवासियों से अपील की थी कि वो जवानों को दिवाली पर शुभकामनाएं और संदेश भेजें।

बीजेपी नेताओं ने भी जवानों संग मनाई दिवाली

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *