Saturday , December 5 2020
Breaking News

बढ़ती आबादी बीएमसी के लिए सिरदर्द

bmcमुंबई। मुंबई की लगातार बढ़ रही आबादी बीएमसी के लिए सिरदर्द बन गई है। इसका असर मुंबईकरों की मूलभूत सुविधाओं पर पड़ने की संभावना जताई जा रही है। फिलहाल पूरी मुंबई की जनसंख्या 1 करोड़ 25 लाख है। हाल ही में पेश की गई वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम की रिपोर्ट के अनुसार शहर में प्रति घंटे 51 लोगों का भार पड़ रहा है। यानी प्रतिदिन करीब 1200 से ज्यादा की दर से मुंबई की जनसंख्या में बढ़ोतरी हो रही है।

सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला विभाग मलाड और सबसे कम जनसंख्या वाला शहर दक्षिण मुंबई है। तेजी से बढ़ रही आबादी के मद्देनजर यहां के संसाधन कम पड़ रहे हैं। इसका सबसे ज्वलंत उदाहरण है पानी। बीएमसी जलापूर्ति विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल मुंबईकरों को प्रतिदिन 4 हजार 500 लाख लीटर पानी की जरूरत है, लेकिन प्रतिदिन महानगर को 3750 लाख लीटर पानी की ही सप्लाई की जाती है।

Loading...

इसमें इमारतों में रहने वाले प्रति व्यक्ति को 100 से 110 लीटर पानी सप्लाई की जाती है, जबकि झोपड़पट्टियों में 80 लीटर पानी सप्लाई की जाती है, लेकिन दिन ब दिन जनसंख्या में बढ़ोतरी होने के कारण आने वाले दिनों में प्रति व्यक्ति 50 लीटर पानी सप्लाई करना भी बेहद मुश्किल होगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *