Saturday , February 27 2021
Breaking News

संसद में घिरे नवाज, विपक्षी नेता ने लताड़ा

06nawaz-sharifइस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अब अपने देश में भी घिरते दिख रहे हैं। पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) के नेता एतजाज अहसन ने गुरुवार को संसद के संयुक्त सत्र में जोरदार हमला किया। उन्होंने कहा कि ‘नॉन स्टेट एक्टर्स’ को आजादी देने की वजह से पाकिस्तान अलग-थलग पड़ गया है।

पाकिस्तान के प्रमुख अखबार डॉन की वेबसाइट पर एक खबर के मुताबिक एतजाज ने कहा, ‘नैशनल एक्शन प्लान के मुताबिक सरकार नॉन स्टेट एक्टर्स पर रोक लगाने में पूरी तरह विफल रही है। ऐसे तत्व इस्लामाबाद, लाहौर, फैसलाबाद और कराची में प्रदर्शन और रैली करते हैं, भाषण देते हैं।’

एतजाज ने कहा ने कहा, ‘पिछले सप्ताह एक कैबिनेट बैठक के बाद बयान जारी कर सदस्यों की ओर से कहा गया- हमें ‘विश्वास’ है कि उड़ी हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ नहीं है। लेकिन स्पष्ट रूप से खारिज नहीं किया गया।’
उन्होंने कहा,’ ये शब्द ‘विश्वास’ इंगित करता है कि हमें नहीं पता यदि इसके पीछे नॉन स्टेट एक्टर्स हों। यदि आप नैशनल एक्शन प्लान को लागू नहीं कर सकते और ऐसा कुछ होता है तो इसका नुकसान पाकिस्तान को होगा। हम अलग-थलग कर दिए जाएंगे। तब बांग्लादेश और अफगानिस्तान आपसे बात नहीं करेगा। नेपाल और भूटान भारत का समर्थन करेगा। आपने पाकिस्तान को अकेला कर दिया है।’

पाकिस्तान के कूटनीतिक रूप से अलग-थलग पड़ने के लिए पीपीपी के वरिष्ठ सांसद ने नवाज शरीफ को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘कभी भारत अकेला था, लेकिन अब पाकिस्तान अलग-थलग है। ये हमारे विदेश मंत्रालय की असफलता नहीं तो और क्या है?’

Loading...

एतजाज ने कहा, ‘क्योंकि प्रधानमंत्री के पास ही विदेश मंत्रालय की भी जिम्मेदारी है। इसलिए पाकिस्तान का अलग-थलग होना नवाज शरीफ की ही असफलता है। नवाज शरीफ ने उड़ी हमला नहीं कराया। हमारे रक्षामंत्री ने कहा कि कश्मीर मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए भारत ने ही ऐसा किया है। मैं सहमत हूं, लेकिन तब पाकिस्तान क्यों अलग-थलग हुआ? क्योंकि आपने नॉन स्टेट एक्टर्स को छूट दी।’

एतजाज ने कहा, ‘मैंने प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के मुंह से एक बार भी कुलभूषण जाधव का नाम नहीं सुना। यदि पाकिस्तानी सेना का कोई कर्नल बिना पासपोर्ट-वीजा के आगरा में पाया जाता और मोदी के हाथ लग जाता तो वो उसे लाल किले की प्राचीर पर फांसी दे देते।’

एतजाज ने अपने भाषण में चीन पंजाब इकनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी)और पनामा पेपर्स लीक मुद्दे पर भी नवाज शरीफ को घेरा। उन्होंने कहा कि 46 बिलियन का सीपीईसी राष्ट्रीय एकता से अधिक महत्वपूर्ण नहीं हो सकता।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *