Wednesday , March 3 2021
Breaking News

पेप्सी, कोका कोला, 7 अप समेत 5 सॉफ्ट ड्रिंक्स में मिले जहरीले तत्व: रिपोर्ट

cola-pepsiनई दिल्ली। सरकार ने सॉफ्टड्रिंक्स की जांच में पेप्सिको और कोका कोला के कई प्रॉडक्ट्स में जहरीले पदार्थों की मात्रा अधिक पाई है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा कराई गई जांच में ड्रग्स टेक्निकल अडवाइजरी बोर्ड (DTAB) ने सॉफ्टड्रिंक्स में पांच अलग-अलग टॉक्सिन टॉक्सिन मिलन की पुष्टि की। अंग्रेजी अखबार ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ की एक खबर के मुताबिक जांच में शामिल पेप्सी, कोका कोला, माउंटेन ड्यू, स्प्राइट और 7 अप में जहरीले पदार्थ पाए गए हैं।

अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक DTAB ने इस साल फरवरी मार्च में परीक्षण के लिए इन सॉफ्टड्रिंक्स के पेट बोतलों के सैंपल्स एकत्रित किए थे। मंत्रालय के दिशानिर्देशों के तहत ही ‘ऑल इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ हाइजीन ऐंड पब्लिक हेल्थ’ (AIIHPH) में परीक्षण किया गया था। इस जांच में पेप्सिको और कोका कोला कंपनी के पांच सॉफ्टड्रिंक्स प्रॉडक्ट्स के पेट बोतलों के सैंपल शामिल किए गए थे। 7 अप और माउंटेन ड्यू पेप्सिको कंपनी के प्रॉडक्ट हैं वहीं, स्प्राइट कोका कोला कंपनी का प्रॉडक्ट है।

Loading...

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक AIIHPH ने DTAB के चेयरमैन जगदीश प्रसाद को इस टेस्ट से जुड़े रिजल्ट सौंप दिए हैं। इससे पहले इस संस्थान ने विभिन्न स्वास्थ्य वर्धक दवाओं के नमूनों में भी हेवी मेटल्स पाए जाने की पुष्टि की थी।
इस संबंध में पेप्सिको इंडिया के प्रवक्ता का कहना है, ‘हमें अभी तक जांच रिपोर्ट के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है और जब तक हम यह नहीं जान जाते की जांच में किस मेथडॉलॉजी का प्रयोग किया गया है, हमारे लिए इस रिपोर्ट पर कुछ कहना संभव नहीं होगा। मैं बताना चाहूंगा कि हम अपने सभी उत्पादों में ‘फूड सेफ्टी ऐंड स्टैंडर्ड्स’ के नियमों का पालन करते हैं। हम अपने उत्पादों में इन नियमों के तहत ही हेवी मेटल्स का उपयोग करते हैं।’ वहीं, कोका कोला इंडिया ने इस संबंध में कोई प्रतिक्रिया देने से मना कर दिया है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *