Breaking News

पाकिस्तानी संसद का संयुक्त सत्र: नवाज की बातों में बस कश्मीर-कश्मीर, बुरहान-बुरहान

nawazइस्लामाबाद। बुधवार को पाकिस्तानी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए पीएम नवाज शरीफ ने एक बार फिर कश्मीर का राग छेड़ा। भारत और पाकिस्तान के बीच हालिया तनाव के बाद पैदा हुए युद्ध के हालात के बाद पाकिस्तान में संसद का संयुक्त सत्र बुलाया गया था। नवाज शरीफ ने सत्र को संबोधित करते हुए हिजबुल मुजाहिदीन के मारे गए कमांडर बुरहान वानी को हीरो बताया। नवाज ने एक बार फिर कश्मीर की आजादी समर्थन किया। साथ ही, सर्जिकल स्ट्राइक को भी झूठा करार देने की कोशिश की।

नवाज शरीफ ने बुधवार को अपनी संसद में दर्जनों बार कश्मीर का जिक्र किया। नवाज शरीफ ने अपने संबोधन में हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को कश्मीर की आजादी का पैरोकार बताया। नवाज ने भारत पर कश्मीर में अत्याचार करने का आरोप लगाते हुए कहा कि निहत्थे कश्मीरियों पर भारतीय सेना हमले कर रही है।

पाकिस्तानी पीएम ने कहा कि कश्मीरियों के दिल में आजादी की तड़प है। नवाज ने हालिया तनाव की पूरी जिम्मेदारी भारत पर डालते हुए कहा कि हमने भारत से बातचीत की बार-बार कोशिश की, लेकिन भारत तैयार नहीं हुआ। शरीफ ने हद तब कर दी, जब उन्होंने उड़ी हमले में भी साजिश का ऐंगल जोड़ दिया।

Loading...

नवाज शरीफ ने अपनी संसद को बताया कि उड़ी पर हमला तब हुआ जब वह यूएन जाने की तैयारी कर रहे थे। नवाज ने कहा, ‘बिना तस्दीक के 6 घंटे के अंदर-अंदर भारत ने इस वाकये की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर डाल दी। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत के मंसूबे क्या थे।’ शरीफ ने भारत पर आरोपों की झड़ी लगाते हुए कहा, ‘इसके बाद भारत की तरफ से धमकियों का सिलसिला शुरू हो गया।’

सर्जिकल स्ट्राइक को झूठा बताने की कोशिश
नवाज शरीफ ने अपने संबोधन में भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को भी गलत ठहराने की कोशिश की। नवाज ने कहा कि भारने ने एलओसी पर फायरिंग की थी, जिसमें हमारे दो जवान शहीद हुए थे। नवाज ने कहा कि हम हमेशा से जंग के खिलाफ रहे हैं, लेकिन शांति की हमारी अपील को कमजोरी समझने की भूल नहीं करनी चाहिए।

नवाज ने की शांति की बात, मोदी की बातों का भी जिक्र
नवाज शरीफ ने संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा, ‘हम जंग के खिलाफ हैं। अमन चाहते हैं। कश्मीर समेत सारे मसलों का हल चाहते हैं। पर अमन का इस ख्वाहिश को हमारी कमजोरी न समझी जाए। नवाज ने पीएम मोदी का नाम लिए बिना ही उनकी बातों का जिक्र किया। नवाज शरीफ ने कहा, ‘अगर उनकी (मोदी की) ख्वाहिश यह है कि बेरोजगारी और तरक्की-खुशहाली में हमारा मुकाबला हो, तो यह काम आग और बारूद से नहीं हो सकता। जिन खेतों में बारूद बोया जाए उसमें खुशहाली की खेती नहीं होती।’

नवाज ने पाकिस्तान को ही आतंकवाद से सबसे अधिक पीड़ित बताया। नवाज ने संसद में कहा, ‘पाकिस्तान सबसे अधिक दहशतगर्दी से पीड़ित है। हमारी आवाम, सुरक्षाबल और बच्चे दहशतगर्दी से पीड़ित हैं। हमने इस दहशतगर्दी के खिलाफ जंग छेड़ रखी है। दुनिया हमारा प्रयास देख रही है। हम इसी रास्ते पर चलते रहेंगे।’ नवाज ने साथ ही साथ यह भी जोड़ा कि पाकिस्तान पूरी दुनिया में इस बात को सफलतापूर्वक इस बात को रख रहे हैं कि भारत की वजह से ही इलाके में अशांति है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *