Breaking News

मुझसे बदला लेने के लिए छात्रों का ‘Use’ कर रहे हैं राहुल गांधी: स्मृति

irani2लखनऊ। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर पर बदले की राजनीति का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी रोहित वेमुला मामले को उछालकर छात्रों के बीच राजनीति कर रहे हैं और मुझसे अमेठी का बदला लेना चाहते हैं।

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वेमुला मामले पर राहुल गांधी उनके खिलाफ बदले की राजनीति कर रहे हैं। वह मुझसे अमेठी का बदला लेना चाह रहे हैं। क्योंकि मैंने राहुल के लिए उनके संसदीय क्षेत्र में काफी चुनौतियां खड़ी की हैं। अब वह शिक्षा को राजनीति को अखाड़ा बनाना चाहते हैं और इसके लिए छात्रों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

स्मृति ने कहा कि अगर राहुल गांधी मुझसे अमेठी में या फिर देश में कहीं दूसरी जगह लड़ना चाहते हैं मुझे कोई आपत्ति नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं अमेठी तब गई थी, जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी। तब मैं उनसे नहीं डरी तो अब क्यों डरूंगी। मैं संसद में पूरी तरह से उनके आरोपों का जवाब देने में सक्षम हूं।

Loading...

रोहित की जाति पर बवाल: सुषमा ने कहा- दलित नहीं था वेमुला
गौरतलब है कि हैदराबादव की सेंट्रल यूनिवर्सिटी में रोहित वेमुला की खुदकुशी के बाद देश में हाहाकार मच गया था और केंद्र सरकार पर दलितों को परेशान करने के भी आरोप लगे। यह भी कहा गया कि सरकार शिक्षण संस्थानों में एक खास एंजेंडे के साथ काम कर रही है। रोहित वेमुला की मौत इसी का परिणाम है। इसके बाद सुषमा स्वराज ने कहा था जिस रोहित वेमुला की खुदकुशी के बाद दलित उत्पीणन की बात हो रही है। वो दलित था ही नहीं।

दलित का बेटा था रोहित- पुनिया

अनुसूचित जाति और जनजाति आयोग के अध्यक्ष पीएल पुनिया ने कहा कि जो भी बात रोहित वेमुला की जाति को लेकर सुषमा स्वराज कर रही हैं। वह गलत है और मैं इस बात की पूरी तरह से खंडन करता हूं। पुनिया ने कहा कि, ‘वह अनुसूचित जाति समुदाय से आता था। कुछ लोग इस मुद्दे को कमतर करने की कोशिश कर रहे हैं। रोहित और उसके भाई-बहनों की परवरिश उसकी अकेली मां ने किया था। उसके पिता परिवार से सालों पहले अलग हो गए थे इसलिए कोई कानून उसकी जाति का निर्धारण उसके पिता की पहचान के आधार पर कैसे कर सकता है?’

रोहित वेमुला की खुदकुशी के एक दिन बाद हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दौरा करने वाले पूनिया ने कहा, ‘मैं यूनिवर्सिटी के अधिकारियों, रोहित के दोस्तों और हॉस्टल से निकाले गए छात्रों से मिला और मुझे यकीन है कि रोहित दलित ही था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *