Breaking News

सर्जिकल स्ट्राइक: भारत के पक्ष में खुलकर आया रूस, पाकिस्तान को घेरा

indianarmyनई दिल्ली। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक के भारत के फैसले का रूस ने समर्थन किया है। भारत में रूस के राजदूत अलेक्जेंडर एम. कदाकिन ने कहा है कि रूस ही एकमात्र ऐसा देश है, जिसने उड़ी अटैक के बाद साफ-साफ कहा कि आतंकवादी पाकिस्तान से आए थे।

सोमवार को एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में राजदूत अलेक्जेंडर कहा, ‘पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद को रोके। हमारा देश सीमा पार से फैलाए जा रहे आतंकवाद के खिलाफ भारत की लड़ाई में हमेशा साथ रहा है। जब आतंकवादी सैन्य ठिकानों और शांति के साथ रह रहे नागरिकों पर हमला करते हैं तो मानवाधिकारों का सबसे बड़ा हनन होता है। हम सर्जिकल स्ट्राइक का स्वागत करते हैं। हर देश को खुद की रक्षा का अधिकार है।’

Loading...

उन्होंने भारत को आश्वस्त करते हुए कहा कि रूस और पाकिस्तान के बीच संयुक्त सैनिक अभ्यास से चिंतित होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि अभ्यास की थीम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई थी। यह भारत के हित में है कि हम पाकिस्तानी सेना को यह सिखाएं कि वह भारत के खिलाफ आतंकवादी हमलों के लिए खुद का इस्तेमाल न होने दे। यह अभ्यास गिलगिट-बाल्टिस्तान या ‘पाकिस्तान के कब्जे वाले भारतीय राज्य जम्मू-कश्मीर’ जैसे किसी संवेदनशील या समस्याग्रस्त जगह पर नहीं हुआ।
गौरतलब है कि उड़ी हमले के बाद 29 सितंबर को भारतीय सेना ने पीओके पार कर आतंकी ठिकानों पर हमला बोला था। इस हमले में कई आतंकियों के मारे जाने की खबर थी। इसके बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और अंतरराष्ट्रीय मंचों पर सहानुभूति तलाश रहा है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *