Breaking News

पांच देशों के शरीक न होने के फैसले से आहत पाकिस्तान ने दक्षेस सम्मेलन टाला

sarcइस्लामाबाद । पाकिस्तान ने अगले महीने यहां होने वाले दक्षेस सम्मेलन को टाल दिया है। दरअसल, भारत ने इस क्षेत्रीय संगठन के चार अन्य सदस्य देशों के साथ इस बैठक में शरीक नहीं होने का फैसला किया था।

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा, ‘9-10 नवंबर 2016 को इस्लामाबाद में होने वाले 19वें दक्षेस सम्मेलन में शरीक नहीं होने के जरिए दक्षेस प्रक्रिया को बाधित करने के भारत के फैसले की पाकिस्तान ने निंदा की है।’ इसने दावा किया कि दक्षेस चार्टर की भावना का उस वक्त ‘उल्लंघन’ हुआ जब एक सदस्य देश के द्विपक्षीय समस्या का प्रभाव क्षेत्रीय सहयोग के इस बहुपक्षीय मंच पर पड़ा।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सम्मेलन में दक्षेस नेताओं की भागीदारी को लेकर उनका स्वागत करने की आशा कर रहे थे। सम्मेलन को सफल बनाने के लिए सारी तैयारियां हो गई थी। इसने आरोप लगाया कि सम्मेलन को पटरी से उतारने का भारत का फैसला क्षेत्र में गरीबी के खिलाफ लड़ने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के फैसले का विरोधाभासी है।

विदेश कार्यालय ने कहा, ‘उरी घटना को लेकर बेबुनियाद पूर्व मान्यताओं के आधार के पर सम्मेलन से अनुपस्थित रहने का भारत का फैसला कश्मीर में भारत द्वारा की जा रही ज्यादती से दुनिया का ध्यान भटकाने की एक नाकाम कोशिश है।’ पाक विदेश कार्यालय ने कहा, ‘दक्षेस के तहत क्षेत्रीय सहयोग को पाक काफी महत्व देता है, इसलिए, पाकिस्तान यथाशीघ्र इस्लामाबाद में 19वें दक्षेस सम्मेलन का आयोजन करने को प्रतिबद्ध है ताकि क्षेत्रीय सहयोग का उद्देश्य दक्षेस के तहत अधिक तत्परता से बढ़ाया जा सके।’

Loading...

विदेश कार्यालय ने कहा कि इस्लामाबाद में सम्मेलन आयोजित करने की नयी तारीखों की घोषणा नेपाल के जरिए जल्द की जाएगी जो फिलहाल दक्षेस का अध्यक्ष है। इसने बताया, ‘इस मुताबिक, हमने नेपाल के प्रधानमंत्री को अवगत कराया है।’ भारत के अलावा तीन अन्य देशों बांग्लादेश, भूटान और अफगानिस्तान ने सम्मेलन से दूरी बना ली है। इन देशों ने सम्मेलन को सफल बनाने के लिए सही माहौल नहीं बनने को लेकर पाकिस्तान को परोक्ष रूप से जिम्मेदार ठहराया है।

श्रीलंका ने भी आज दक्षेस सम्मेलन से अपने पैर पीछे खींच लिए। वह ऐसा करने वाला पांचवा देश बन गया।

गौरतलब है कि पाकिस्तान द्वारा सीमा पार से लगातार आतंकवाद को प्रायोजित किए जाने का जिक्र करते हुए भारत ने इस हफ्ते की शुरुआत में घोषणा की थी कि मौजूदा हालात में भारत सरकार इस्लामाबाद में प्रस्तावित दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग लेने में सक्षम नहीं है। दक्षेस के सदस्य देशों में अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, भारत, नेपाल और मालदीव, पाकिस्तान तथा श्रीलंका शामिल हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *