Tuesday , March 2 2021
Breaking News

सीमा पर तैनात होंगे ऐटमी पावर वाले राफेल? चीन-पाक परेशान

rafale30पेइचिंग। चीन को डर है कि भारत परमाणु शक्ति से लैस 36 राफेल फाइटर जेट्स को चीन और पाकिस्तान से सटी सीमा पर तैनात करेगा। चीनी मीडिया की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत अपनी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए ऐसा कर सकता है। गौरतलब है कि भारत ने हाल ही में फ्रांस के साथ 36 राफेल लड़ाकू विमानों को खरीदने का सौदा किया है। सूत्रों के हवाले से पहले भी ऐसी खबरे आई थीं कि राफेल डील से पाकिस्तान भी परेशान है।

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने शेन्जेन टीवी के हवाले से लिखा है कि भारत फ्रांस में बने लड़ाकू विमानों को पाकिस्तान और चीन के साथ विवाद वाले इलाकों में तैनात करेगा। अखबार ने लिखा है कि स्टॉकहोम इंटरनैशनल पीस रिसर्च इंस्टिट्यूट (SIPRI) की एक हालिया रिपोर्ट के मुताबिक हथियारों के आयात के मामले में भारत दुनिया के देशों में सबसे ऊपर है।

शेन्जेन टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक राफेल फाइटर्स न्यूक्लियर वॉरहेड ले जाने में सक्षम हैं और इसका मतलब यह हुआ कि भारत की सुरक्षा क्षमताओं में बहुत बड़ा सुधार हो जाएगा।
शंघाई इंस्टिट्यूट्स फॉर इंटरनैशनल स्टडीज के साउथ एशिया स्टडीज के डायरेक्टर झाओ गनचेंग के मुताबिक, ‘भारत डसॉल्ट से राफेल की तकनीक भी खरीदना चाहता है लेकिन फ्रांस ने इससे मना कर दिया। इसका मतलब है कि फ्रांस नहीं चाहता कि भारत अपने मिलिट्री इंडस्ट्रियल सिस्टम में सुधार कर सके।’ उन्होंने कहा कि चीन के कई दूसरे पड़ोंसी भी हथियारों के आयात के मामले में टॉप 10 में शामिल है।

Loading...

वहीं पेइचिंग के सुरक्षा विशेषज्ञ सॉन्ग झोंगपिंग के मुताबिक, ‘दक्षिण चीन सागर में विवाद और चीन की नौसेना की बढ़ती ताकत से वियतनाम और फिलिपिंस जैसे देश बहुत चिंतित हैं, लेकिन अमेरिका इस समस्या को शांतिपूर्ण ढंग से हल करने में चीन की मदद नहीं कर रहा है।’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *