Wednesday , March 3 2021
Breaking News

PAK के 11000 बार सीजफायर तोड़ने की सजा है सेना की सर्जिकल स्ट्राइक

strike-29उरी आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना ने अपने पहले जवाबी हमले में LOC पार कर पाकिस्तान की सीमा में घुसकर आतंकी कैंपों को तहस-नहस कर दिया है। पाकिस्तान का कहना है की भारतीय सेना की इस कार्रवाई में उसके भी दो सैनिक मारे गए हैं।

पाकिस्तान के मुताबिक भिम्बर, हॉटस्प्रिंग केल और लिपा सेक्टर के पास इस सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया है। उधर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ ने भी कहा है कि वो देश की रक्षा और जवाबी कार्रवाई के लिए एकदम तैयार हैं।

पाकिस्तान भले ही भारतीय सेना के इस सर्जिकल ओपरेशन की आलोचना कर रहा हो लेकिन आंकड़ों पर नज़र डालें तो साल 2002 से जून 2016 तक पाकिस्तान की तरफ से करीब 11,270 बार सीजफायर उल्लंघन किया गया है…

1. पाकिस्तान के साल 2002 से जून 2016 तक किए गए सीजफायर उल्लंघन की घटनाओं में करीब 313 भारतीय नागरिक मारे गए हैं जबकि 144 सेना के जवान शहीद हुई हैं।

2. सबसे ज्यादा बार सीजफायर उल्लंघन साल 2002 में ही देखने को मिला था। तब LOC पर ऐसी 8376 घटनाएं देखने को मिली थीं। 2003 में ये आंकड़ा घटकर 2045 रह गया था।

Loading...

3. साऊथ एशियन टेरेरिज्म पोर्टल के मुताबिक पाकिस्तान समर्थित आतंकी घटनाओं और घुसपैठ की घटनाओं में इस साल अभी तक भारत के 64 जवान शहीद हो चुके हैं ये पिछले 6 सालों में सबसे ज्यादा है। इससे पहले साल 2010 में 69 जवान मारे गए थे।

4. साऊथ एशियन टेरेरिज्म पोर्टल की इस रिपोर्ट के मुताबिक साल 1997 से 2007 के बीच पाकिस्तान की तरफ से हो रहे सीजफायर उल्लंघन में हर साल करीब 800 भारतीय सिविलियंस मारे गए।

5. आंकड़ों पर नज़र डालें तो मोदी सरकार के आने के बाद से सीमा घुसपैठ की घटनाओं में कमी देखी जा रही थी लेकिन साल 2016 में पाकिस्तानी सेना के सपोर्ट में ये गतिविधियां तेजी से बढ़ी हैं। इसी के चलते भारतीय सैनिकों के शहीद होने की संख्या भी तेजी से बढ़ी है।

6. भारत ने इस साल पाकिस्तान की तरफ से सामने आई आतंकी गतिविधियों में 31 आतंकवादियों को मार गिराया है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *