Breaking News

प्ले ग्राउंड मेनटिनेंस का मुद्दा गरमाया

pd logमुंबई। बीएमसी में विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र (बाला) आंबेरकर, एमएनएस के ग्रुप लीडर संदीप देशपांडे के बाद मुंबई बीजेपी अध्यक्ष व विधायक आशीष शेलार ने रिपेयरिंग और मेनटिनेंस से संबंधित निविदा पर कमिश्नर अजोय मेहता से शिकायत की है। शेलार के अनुसार, इतने कम रेट पर काम करना किसी भी ठेकेदार के लिए संभव नहीं होगा, बेहतर है पूरे मामले की जांच कर कमिश्नर इस निविदा को रद्द करें। स्थाई समिति की बैठक में भी बीजेपी के सदस्य विट्ठल खरटमोल ने यह मामला उठाया था, जिसका जवाब स्थायी समिति ने नहीं दिया है।

बीएमसी ने पिछले साल 21 जुलाई, 2015 को प्ले ग्राउंड (पी जी) के डिवेलपमेंट, रिपेयरिंग और मेनटिनेंस से संबंधित 143 करोड़ टेंडर मंगाए थे। उस 143 करोड़ रुपये के काम को ठेकेदार 33.44 पर्सेंट कम दर यानी 95.21 करोड़ रुपये में करने के लिए तैयार है। पीजी डिवेलपमेंट के लिए 86.81 करोड़ रुपये खर्च का अनुमान लगाया था, जिसे ठेकेदार 20.39 पर्सेंट कम रेट 69.11 करोड़ रुपये में ही करने की तैयारी दिखाई है। इस काम के दूसरे हिस्से रिपेयरिंग और मेनटिनेंस में बड़ी गड़बड़ियां हैं, जिसके लिए बीएमसी ने अनुमानित खर्च 56.22 करोड़ रुपये निश्चित किया था। उस काम को ठेकेदार 53.58 पर्सेंट से कम यानी 26.10 करोड़ रुपये में ही करने को तैयार है।

मुंबई के 19 वॉर्ड के लिए मंगाई गई निविदा में कई ठेकेदारों ने रिपेयरिंग और मेनटिनेंस का काम 50 से 80 पर्सेंट कम रेट पर काम करने की तैयारी दिखाई है। इस पर सभी को ऐतराज है। नगरसेवकों का कहना है कि इतने कम रेट में काम करना व्यावहारिक तौर पर संभव नहीं है। बेहतर है, कमिश्नर इस पूरे मामले पर ध्यान दें, ताकि भविष्य में होने वाली गड़बड़ियों को समय रहते ही सुधारा जा सके।

यहीं नहीं, इस टेंडर में ओवरलैपिंग का मामला भी है। यानी कुछ ऐसे मैदान का काम नए ठेकेदार को दे दिया है, जिसे पुराने ठेकेदार पहले से ही करते आ रहे हैं और उनके काम की गारंटी का पीरियड अभी चल ही रहा है। इसके अलावा सिक्युरिटी डिपॉजिट में भी गड़बड़ियां पाई गई हैं।

——————-

हमें अच्छा काम करना है और मुंबईकरों को अच्छा गार्डन और खेल मैदान देना है। इतने कम रेट पर ठेकेदार रिपेयरिंग और मेनटिनेंस कर ही नहीं सकता। इसमें ठेकेदारों का रैकेट भी शामिल हो सकता है। कमिश्नर इसकी जांच करें और निविदा रद्द करें, ताकि मुंबईकरों को अच्छा गार्डन व प्ले ग्राउंड दिया जा सके।

Loading...

-आशीष शेलार, अध्यक्ष (मुंबई बीजेपी)

इस संबंध में मैंने पहले ही कमिश्नर को पत्र दिया है। इतने कम रेट पर ठेकेदार काम नहीं करेगा, उल्टा काम खराब करके चला जाएगा जिससे नगरसेवक और बीएमसी अधिकारियों को भ्रष्टाचार जैसे आरोप झेलने पड़ेंगे, इसलिए मैंने कमिश्नर से पूरी टेंडर प्रक्रिया ही रद्द करने की मांग की है।

-देवेंद्र (बाला) आंबेरकर, विरोधी पक्ष नेता (बीएमसी)

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *