Sunday , November 29 2020
Breaking News

5 साल में MNCs की छुट्टी कर दूंगा: रामदेव

Ramdev2नई दिल्ली। बाबा रामदेव ने पतंजलि के देसी घी में मिलावट की खबरों को साजिश करार देते हुए दावा किया कि पतंजलि प्रॉडक्ट्स बिल्कुल शुद्ध हैं। योग गुरु ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पतंजली का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है, इसलिए विदेशी कंपनियां घबराई हुई हैं और साजिश रच रही हैं। बाबा ने यह भी दावा किया कि आने वाले पांच सालों में वह बड़े-बड़े ब्रैंड्स का नामनिशान मिटा देंगे।

मल्टिनैशनल कंपनियों की साजिश: रामदेव

बाबा रामदेव ने अपने प्रॉडक्ट्स में गड़बड़ियों के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि यह सब मल्टिनैशनल कंपनियों की साजिश है जो लोगों को पैसे देकर पतंजलि को बदनाम करने में जुटी हुई हैं। उन्हें पतंजलि के सामने अपने अस्तित्व का संकट दिख रहा है। बाबा ने कहा कि चूंकि इन विदेशी कंपनियों ने जनता को लूटकर अनाप-शनाप पैसे कमाए हैं, इसलिए इन्हें पतंजलि के खिलाफ दुष्प्रचार कराने में कुछ करोड़ रुपये खर्च करने में कोई परेशानी नहीं होती। उन्होंने कहा कि किसी ने पतंजलि के घी में मिलावट कर एक लैब से जांच करवाई और लैब ने भी नियम-कानूनों को ताक पर रखकर ऐसा किया। रामदेव ने कहा कि उन्होंने लैब के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है।

Loading...

कुछ मीडिया घराने और ऑफिसर भी साजिश में शामिल: रामदेव
बाबा रामदेव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पतंजलि के खिलाफ साजिश में कुछ मीडिया घरानों के भी शामिल होने की ओर इशारा किया। हालांकि, उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि 90 प्रतिशत मीडिया घराने इस साजिश के साझीदार नहीं हुए। हां, उन्होंने कुछ सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत की बात जरूर कही। रामदेव ने दावा किया कि पतंजलि का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए, कंपनियां षडयंत्र का सहारा ले रही हैं। बाबा ने कहा कि पांच सालों में इन सभी कंपनियों की छुट्टी हो जाएगी।

खुद ही बना रखा है लैबः रामदेव
बाबा रामदेव ने पतंजलि प्रॉडक्ट्स की शुद्धता के बारे में कहा कि उन्होंने खुद ही लैब बना रखे हैं जहां कई पैमानों पर प्रॉडक्ट्स की जांच है। बाबा ने कहा कि चूंकि पतंजलि के ब्रैंड ऐंबैसडर वह खुद ही हैं, इसलिए इन प्रॉडक्ट्स की शुद्धता सुनिश्चित करना उनकी नैतिक और आध्यात्मिक जिम्मेदारी है। उन्होंने बताया कि गाय के घी के लिए तमिलनाडु और केरल जैसे राज्यों से मक्खन मंगवाए जाे हैं।

परोपकार पर खर्च होगा मुनाफा: रामदेव
बाबा ने कहा कि पिछले वर्ष 2015 में पतंजलि टैक्स फ्री कंपनी हो गई। इसलिए, हमने फैसला किया कि जो भी मुनाफा होगा वह परोपकार के काम में लगेगा। चार-पांच वर्षों में करोड़ों रुपये खर्च कर गोशालाएं बनवाएंगे। उन्होंने कहा कि जैसे शंकराचार्य ने चार पीठ बनाए थे, उसी तरह हम देश के चारों कोनों में चार गोशालाएं बनवाएंगे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *