Breaking News

शिवपाल का अखिलेश को जवाब, न हो कुर्सी का अहंकार, नहीं बनना चाहता CM

sivpal-mulayamलखनऊ। शिवपाल यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और अपने भतीजे को हर बात का सीधाा जवाब दिया। उन्होंने कहा, ”मैंने उत्तर प्रदेश में कई मुख्यमंत्री देखे हैं। कुछ कुर्सी पर बैठकर घूमने लगते हैं। उनमें थोड़ा सा अहंकार आ जाता है। यह कुर्सी तो जनता और पार्टी नेतृत्व ने दी है। अखिलेश को अभी अनुभव की जरूरत है और जो सही है उसको मानना चाहिए। मुझे सीएम पद की लालसा नहीं है। मुझे अखिलेश के दोबारा सीएम बनने पर भी कोई आपत्ति नहीं है। अगर सपा सरकार दोबारा बहुमत से जीती तो हम खुद सीएम के तौर पर दोबारा अखिलेश का नाम आगे करेंगे। हम दोनों के बीच सुलह का रास्ता नेताजी ने निकाल लिया है।” यह बात उन्होंने सीएम के उस बयान के बाद कही, जिसमें अखिलेश ने कहा था कि परिवार में झगड़ा उनकी वजह से नहीं, बल्कि इस कुर्सी के कारण हो रहा है।

राजधानी के होटल में आयोजित एक खबरिया चैनल के कार्यक्रम में शिवपाल ज्यादा तो खुलकर नहीं बोले, लेकिन इशारों-इशारों में काफी कुछ कह गए। आगे अपनी बात को बढ़ाते हुए उन्होंने कहा, ” पिछले कुछ दिन से चल रहा घटनाक्रम कोई खास बात नहीं है। अखिलेश मेरा भतीजा है। चार साल की उम्र से लेकर जब तक पढ़ाई चली है वो मेरे साथ रहा है। उसे हमने पढ़ाया है। वो मेरा बेटा जैसा है। झगड़ा कहीं नहीं है। हर परिवार में बेटे से उम्मीद होती है। बेटा जब उत्तर प्रदेश की कुर्सी पर विराजमान है तो अब क्या है।”

शिवपाल यादव के मुताबिक,”हमारे बीच कोई कॉम्पीटिशन नहीं है। नेताजी मुखिया है। उन्हें सब मानते हैं और किसी की भी हैसियत नहीं है, जो नेता की बात न माने। मैंने नेता जी से बात कर ली है। सारी बातें उनके सामने रख दी हैं। सीएम भी कह रहे हैं कि वो उनकी सारी बातें मानेंगे। उनका संकेत ही मेरे लिए आदेश है। जो जिम्मेदारी वो देंगे हम उसे मानेंगे। झगड़े की बात नहीं है। 2017 में हमें फिर से सरकार बनानी है। इससे भी बड़े बहुमत की सरकार बनानी है। यूपी के सभी कार्यकर्ताओं से मैंने कहा है कि पार्टी को मजबूत करना है।”

Loading...

शिवपाल यादव ने कहा, ”बीच वाले लोगों के साथ मेरा अनुभव काफी लंबा है। अखिलेश के साथ भी ऐसे लोग बैठते हैं, जो कैबिनेट मंत्री हैं और काम भी नहीं करते हैं। नेताजी के साथ मेरा लंबा अनुभव रहा है। पढ़़े-लिखे हो कुछ अक्ल से काम लो। हमें भी लेना है। सब मुलायम, अखिलेश और शिवपाल नहीं हो सकते हैं। यूपी का सबसे बड़ा पद अखिलेश को मिला है। अखिलेश को इस जिम्मेदारी को निभाना सीखना है।”

अमर सिंह ने नहीं करवाया परिवार में झगड़ा: शिवपाल
एक तरफ जहां पिछले कुछ दिनों से सीएम अखिलेश बिना नाम लिए अमर सिंह को परिवार में मचे घमासान की वजह बता रहे हैं तो वहीं चाचा शिवपाल यादव ने उनका पक्ष लिया है। शिवपाल यादव ने कहा, ”अमर सिंह कभी भी हमारे परिवार का नुकसान नहीं कर सकते हैं। मुझे भरोसा है कि वो परिवार में कभी झगड़ा नहीं लगाएंगे। अखिलेश के अगल-बगल भी ऐसे कई लोग हैं जो यहां भी बैठे होंगे और उसे व्हाट्सएप कर रहे होंगे।”

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *