Breaking News

जीबी रोड सेक्स रैकिट: क्राइम ब्रांच के शिकंजे में आया ‘बिल्ली’

gb-roadनई दिल्ली। जीबी रोड में चल रहे सेक्स रैकिट के प्रमुख मुलाजिम सरफराज उर्फ बिल्ली को आखिरकार दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने गुरुवार को पकड़ लिया। वह बुलंदशहर में छुपा हुआ था। वह इस केस के मुख्य आरोपी अफाक हसन और सायरा बेगम का मुख्य आदमी था।

अफाक हसन और सायरा बेगम के कुबूल करने के बाद बिल्ली की तलाश चल रही थी। उन दोनों ने माना था कि बिल्ली धंधा चलाने में उनकी मदद करता था। डीसीपी भीष्म सिंह के नेतृत्व में बिल्ली को पकड़ लिया गया। मानव तस्करी करने के लिए वह दूसरे गुर्गों राशिद कश्मीरी, शहनाज और अनु के साथ कोऑर्डिनेट करता था। मानव तस्करी नेक्सस नेपाल और अन्य देशों में फैल गया था।

Loading...

जांच में यह खुलासा हुआ कि बिल्ली फोन के जरिए हुसैन को रोज अपडेट किया करता था। कोठे को मैनेज करने के लिए मुमताज, शिल्पा और बीना नाम की तीन महिलाएं उसकी मदद करती थीं। उन्हें हर महीने 25 से 30 हजार तक सैलरी दी जाती थी। इतना ही नहीं बिल्ली लोकल पुलिसवालों को भी धंधा चलाए रखने में मदद करने के लिए पैसे दिया करता था। उसके अप्रवल के बाद ही लड़कियों को खरीदकर कोठे पर लाया जाता था। पुलिस को पता चला कि इस जोड़े ने 12 प्रॉपर्टीज में इन्वेस्ट किया था जिसमें से 6 जीबी रोड के कोठे थे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *