Tuesday , November 24 2020
Breaking News

HOD ने कहा- गुरु दक्षिणा के बदले करो मुझे खुश, और फिर छात्रा ने…

kashi-univवाराणसी /लखनऊ। गुरु और शिष्य के रिश्ते को कलंकित करने वाला एक मामला बुधवार को वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय में सामने आया है. यहां आईआरपीएम चतुर्थ वर्ष की एक छात्रा ने अपने विभागाध्यक्ष रामचंद्र पाठक पर खुद के साथ छेड़खानी किये जाने का आरोप लगाते हुए सिगरा थाने में शिक्षक के खिलाफ तहरीर दी. हालांकि पुलिस छात्रा के तहरीर पर मामले की जांच में जुटी हुई है.

पीड़िता ने बातचीत में बताया कि सभी छात्रों को शोध लिखकर जमा करने के लिए विभाग की ओर से मई में मिला था. जिस सिलसिले में वो एचओडी रामचंद्र पाठक से मिलने गयी तो उन्होंने उसको ऊपर अपने केबिन में बुलाया. जहां पीड़िता ने उनसे कहा कि सर मुझे फर्रुखाबाद अपने घर जाना है और अगर आप बता दें तो मैं अपना शोध जल्दी पूरा कर घर चली जाउंगी.

जिसके बाद पाठक ने कहा कि, “जल्दी के लिए तुम्हे गुरु दक्षिणा देनी होगी और मेरे शरीर पर हाथ फेरने लगे. उनकी गन्दी नियत समझ मैंने उन्हें तभी दो तमाचा जड़ दिया और केबिन से बाहर रोते हुए निकल आई.”

इसकी शिकायत मैं तभी करने वाली थी लेकिन अन्य शिक्षकों और मैम ने मुझे मना कर दिया और बोला जो समस्या है बताओ हम मदद कर देंगे और इस बात को यहीं दबा दो.

Loading...

अब जब मैं अपना शोध पूरा कर उसे जमा करने के लिए आई और 19 अगस्त को उनको दिखाया तो उन्होंने व्यस्तता दिखाते हुए मैम को चेक कराने को बोला और जब मैम को दिखाने के बाद 20 अगस्त को मैंने बाइंडिंग करा कर वापस एचओडी के पास पहुंची तो वो कहते हैं कि तुमने बिना चेक कराये बाइंडिंग क्यों करा दिया और भद्दी भद्दी गालियों का प्रयोग करते हुए हमे जाने को कह दिया.

उनका ध्येय मुझसे शारीरिक दक्षिणा हासिल करने की थी जो मैंने पूरा नहीं किया तो वो अब दूसरे तरीके से मुझ पर दबाव डालने का प्रयास कर रहे हैं. इन्हीं सब से अजीज होकर मैंने आज उनके खिलाफ थाने में तहरीर दिया है. हालांकि वो और भी लड़कियों के साथ ऐसा करते हैं लेकिन भविष्य खराब हो जाने के डर से कोई शिकायत नहीं करता.

पीड़ित छात्रा को विश्वविद्यालय छात्रसंघ का भी इस मामले में समर्थन मिलने लगा है. सिगरा थाने में पीड़िता के साथ पहुंची छात्रसंघ अध्यक्ष आयुषी श्रीमाली ने कहा कि एमएसडब्ल्यू के आईआरपीएम के एचओडी के खिलाफ हमने पुलिस को तहरीर दी है और हम चाहते है कि ऐसे शिक्षक को दंड मिले जिससे भविष्य में कोई भी शिक्षक किसी छात्रा के साथ ऐसा कुकृत्य करने का सोच भी न सके.वहीं इस पूरे मामले पर क्षेत्राधिकारी चेतगंज अनुराग आर्या ने बताया कि शाम में विश्विद्यालय की एक छात्रा द्वारा अपने प्रोफ़ेसर के खिलाफ छेड़खानी की तहरीर दी गयी है और हमने इस सिलसिले में विश्वविद्यालय प्रशासन से बात की है उनका कहना है कि गुरुवार को वो इस मामले पर अपना पक्ष रखेंगे और दोनों के पक्ष सुनने के बाद ही जांच कर ही मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्यवाई की जायेगी.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *