Thursday , December 3 2020
Breaking News

पिछले 3 सालों में 85 लोग खून चढ़ाने से हुए HIV संक्रमित

hivमुंबई। मुंबई डिस्ट्रिक्ट एड्स कंट्रोल सोसायटी (MDACS) ने एक आरटीआई के जवाब में बताया कि पिछले तीन सालों में 85 लोग खून चढ़ाने के से HIV संक्रमित हुए हैं। RTI में पता चला है कि खून चढ़ाने से साल 2013-14 में 25 लोग HIV संक्रमित हुए थे, यह आंकड़ा 2014-15 में बढ़कर 42 हो गया था। साल 2015-16 में कुल 18 लोग खून चढ़ाने से HIV संक्रमित हुए।

नैशनल एड्स कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (NACO) ने दावा किया कि ऐसे मामले काफी हद तक सीमित बुनियादी चिकित्सा सुविधाओं के कारण ग्रामीण इलाकों तक ही सीमित हैं। RTI दाखिल करने वाले चेतन कोठारी ने कहा, ‘हमें बताया गया है कि ऐसी कोई व्यवस्था नहीं है जिससे संक्रमित खून के सोर्स का पता लगाया जा सके। यह एक चिंताजनक स्थिति है।’

Loading...

एक बड़े ब्लड बैंक के कर्मचारी ने कहा कि नियमों के मुताबिक जब कोई डोनर HIV संक्रमित हो जाता है तो संबंधित ब्लड सेंटर को डोनर को इसकी जानकारी दे देनी चाहिए, लेकिन अधिकतर ब्लड सेंटर ऐसा नहीं करते हैं। फेडरेशन ऑफ बॉम्बे ब्लड बैंक्स (FBBB) की चेयरपर्सन जरीन भरूचा ने कहा कि किसी भी व्यक्ति का खून लेने से पहले दाता की लाइफस्टाइल के बारे में एक पूरी विस्तृत जानकारी ऐसे मामलों में कमी ला सकती है, लेकिन ब्लड सेंटर इसे समय की बर्बादी समझते हैं।
ब्लड बैंकों में इंफ्रास्ट्रक्चर और मानव संसाधनों का कमी को पूरा करना भी एक चुनौती है। हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए एक डॉक्टर ने कहा कि अधिकतर ब्लड सेंटर्स में काम करने वाले लोगों की कमी रहती है। खून की कई दिनों तक जांच नहीं होती है और किटों की भी कमी रहती है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *