Monday , November 30 2020
Breaking News

कन्हैया लाल ने प्रधानमंत्री कार्यालय से RTI में पूछा ‘मेरे खाते में 15 लाख कब आएंगे ?’

black-moneyनई दिल्ली। केंद्रीय सूचना आयोग (CIC) ने उस RTI आवेदन पर प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) को जवाब देने का निर्देश दिया है. जिसमें सवाल किया गया है कि उसके खाते में 15 लाख रुपए कब आएंगे जिसका वादा 2014 के आम चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया था.

राजस्थान के झालावाड़ जिल के कन्हैया लाल नामक एक व्यक्ति के आवेदन के सिलसिले में यह निर्देश दिया गया है. लाल ने पीएमओ में एक आरटीआई आवेदन दाखिल कर पूछा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सौंपे गए उसके ज्ञापन की क्या स्थिति है.

मुख्य सूचना आयुक्त राधा कृष्ण माथुर के अनुसार पीएमओ को भेजे ज्ञापन में जिक्र किए गए विभिन्न ब्यौरों में लाल ने शीर्ष कार्यालय से यह कहा था कि ‘चुनाव के समय, घोषणा की गयी थी कि काला धन वापस भारत लाया जाएगा और हर गरीब के खाते में 15 लाख रूपए जमा किए जाएगें. शिकायकर्ता जानना चाहता है कि उसका क्या हुआ.’

लाल की याचिका का जिक्र करते हुए माथुर ने कहा, ‘शिकायकर्ता माननीय प्रधानमंत्री से जवाब चाहता है कि चुनाव के दौरान घोषणा की गई थी कि देश से भ्रष्टाचार को हटाया जाएगा लेकिन यह ‘90 प्रतिशत तक बढ़ गया है’ और जानना चाहता है कि देश से भ्रष्टाचार को हटाने के लिए नया कानून कब बनाया जाएगा.’

Loading...

लाल ने अपनी याचिका में यह भी जिक्र किया है कि सरकार द्वारा घोषित योजनाओं का लाभ सिर्फ धनी एवं पूंजीपति तक ही सीमित है और यह गरीबों के लिए नहीं है. लाल ने यह सवाल भी किया है कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में वरिष्ठ नागरिकों को रेल यात्रा में टिकटों पर दी गयी 40 प्रतिशत रियायत क्या इस सरकार द्वारा वापस ली जा रही है.

माथुर ने कहा कि पीएमओ के सीपीआईओ का जवाब रिकार्ड में नहीं है। सुनवाई के दौरान मौजूद पीएमओ के अधिकारी ने कहा कि उन्हें लाल की याचिका नहीं मिली है और इसलिए वे इसका जवाब नहीं दे सके. माथुर ने अपने आदेश में कहा, ‘प्रतिवादी को इस आदेश के 15 दिनों के अंदर शिकायतकर्ता को उसके आरटीआई आवेदन पर जवाब भेजने का निर्देश दिया जाता है.’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *