Saturday , November 28 2020
Breaking News

अफसर दागदार, सी.एम. लाचार !

इत टॉपक्लास अंडरवर्ल्ड …उत फ्लॉपक्लास अंडरट्रेनिंग !!

pd logमुख्य सचिव ने मुख्यमंत्री को हडकाया ..और कहा ‘ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का दिमाग एक छोटे बच्चे से अधिक नही अर्थात हरकतें बचकाना है’….
एक मीटिंग में मुख्य सचिव दीपक सिंघल ने ऐसी बात कह दी कि हॉल में सन्नाटा पसर गया… सब एक दुसरे का मुंह देखने लगे…. …अपनी पत्नी सांसद डिंपल यादव की उपस्थिति में मुख्यमंत्री अपने सलाहकार अलोक रंजन से कुछ जरुरी बातचीत कर रहे थे, तभी भाषण देते हुए झल्लाहटवश सिंघल बोल उठे.. “सलाहकार साहेब (व मुख्यमंत्री जी), मेरी बात सुनिये, बात तो होती रहेगी, इधर ध्यान दीजिये”….बस्तुतः यह मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की उनकी पत्नी डिंपल यादव के सामने बेइज्जती थी, न कि अलोक रंजन की…मुख्यमंत्री खिसिया कर रह गए …एक तरफ नौकरशाही की उद्दंड बेपरवाही और दूसरी तरफ लाचारी भरी खिसयाहट…ये आलम है उ.प्र. में !!
‘विपक्ष के लिए काम कर रहे कुछ अफसर’…अखिलेश यादव !
‘अफसर मेरी बात नहीं सुन रहे,पार्टी के कुछ जिम्मेदार लोग जमीनों पर कब्जा और गरीबों का दमन कर रहे हैं..अगर यह नहीं रुका तो मैं इस्तीफा देकर विपक्ष में बैठ जाऊंगा. ‘…शिवपाल सिंह यादव !!
मुख्य सचिव ने एक जिले के डीएम को हडकाया कि ‘चुनाव आयोग में क्या कर रहे हो …अभी आचार संहिता नहीं लगी है …निलंबित कर दूंगा ”
प्रदेश की नौकरशाही अब मख्यमंत्री व उनके पॉवरफुल चाचा की बात नहीं सुन रहे…इसका मतलब है कि नौकरशाही जान चुकी है कि आगामी चुनाव में सपा की सरकार नहीं आ रही …. सितम्बर में आचार संहिता लगने वाली है …
बेबशी का आलम देखो ….जब चार साल तक गलत-सलत काम के लिए नौकरशाही को प्रताड़ित करते थे, तब नहीं लगता था कि एक दिन नौकरशाही का भी आएगा और वह आप सभी पारिवारिक सदस्यों से चुन-चुन कर कर हिसाब लेगी…नौकरशाही अब संभल जाना चाहिए …तटस्थ हो कर आगामी चुनाव कराना है …किसी का गुलाम नहीं बनना है !!!
मुख्य सचिव दीपक सिंघल की कुछ ऐसी तस्वीरें मुख्यमंत्री के हाथ लग गई हैं, जिनमें दीपक सिंघल विपक्षी नेताओं के साथ मौजूद हैं।
विपक्ष से घिरे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पीड़ा व्यक्त की है कि विपक्ष की तरह वह अपने अधिकारियों से भी घिरे हुए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि ये अधिकारी उनकी विकास योजनाओं के लागू होने में अड़ंगा लगा रहे हैं।
क्या मुख्यमंत्री में ताकत है कि आकाओं की उपस्थिति में किसी बड़े नौकरशाह को हाथ लगा पाए …..
कमजोर…निसहाय…करणधार….कैसे हो उ.प्र. का उद्धार !!!!!!!

Loading...

सूर्य प्रताप सिंह के फेसबुक वाल से साभार 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *