Thursday , November 26 2020
Breaking News

हिंदुस्तान से लेकर म्यांमार तक कांपी धरती

earthquake-logoनई दिल्ली। म्यांमार और पूर्वी भारत के कई इलाकों में बुधवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलोजिकल सर्वे (यूएसजीएस) के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता 6.8 मापी गई है और इसका केंद्र म्यांमार के चाउक में था। भूकंप के जोरदार झटके बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा और असम समेत भारत के कुछ और राज्यों में भी महसूस किए गए हैं। भूकंप में हताहत हुए लोगों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है।

खबर के अनुसार, बुधवार शाम 4 बजकर 6 मिनट के आसपास भूंकप के झटके महसूस किए गए। कोलकाता के अलावा बिहार की राजधानी पटना और उसके आसपास के इलाकों में भी डर से लोग घरों से बाहर निकल आए। इसके साथ पश्चिम बंगाल के मालदा, वीरभूम, जलपाईगुड़ी और मिदनापुर में भी भूकंप का हल्का प्रभाव देखने को मिला है। भूकंप के चलते कोलकाता में मेट्रो सेवा रोक दी गई थी हालांकि अब इसे बहाल कर दिया गया है।

भूकंप का असर म्यांमार के सबसे बड़े शहर यंगून के अलावा दूसरे शहरों में भी देखा गया है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि बैंकॉक में भी बड़ी इमारतों को कुछ सेकंड तक हिलते देखा गया है। भूकंप का असर बांग्लादेश में भी देखने को मिला है।

आपको बता दें कि मंगलवार को दिल्ली में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इससे पहले इटली में मंगलवार आधी रात आए भूकंप में कई गांव तबाह हो गए हैं और मरने वालों की संख्या कम से कम 38 है। लगभग 150 लोग अभी भी लापता हैं और माना जा रहा है कि इनमें से कई मलबे में फंसे हुए हैं। इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.2 मापी गई थी। भूकंप का केंद्र परूजा के करीब नॉर्चा के पास जमीन के भीतर 10 किलोमीटर की गहराई में था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *