Thursday , November 26 2020
Breaking News

तुर्की में विवाह समारोह में हमला, 30 की मौत

turkey21अंकारा। तुर्की में सीरिया की सीमा सटे शहर गाजियाटेप में एक विवाह समारोह के दौरान हुए हमले में कम से कम 30 लोग मारे गए। हमले में 100 से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है।अधिकारियों को आशंका है कि यह हमला आत्मघाती था। तुर्की में हुए इस ताजा हमले ने नाटो के इस अहम सदस्य देश को हिला कर रख दिया है।

इन सबके बीच तुर्की के लिए यह साल बेहद भयावह रहा है। 15 जुलाई को तख्तापलट की कोशिश के दौरान हुए रक्तपात सहित इसी साल कई हमले हुए हैं। हमलों के लिए कुर्द एवं इस्लामी आतंकवादियों को जिम्मेदार ठहराया गया है। गाजियांटेप के गवर्नर अली यरलिकाया ने शनिवार को एक बयान में कहा ‘एक विवाह समारोह के दौरान हुए भीषण आतंकवादी बम हमले में 30 लोग मारे गए और 94 लोग घायल हुए।’ इससे पहले मरने वालों की संख्या 22 बताई गई थी।

गवर्नर ने कहा, ‘हमले की साजिश रचने वालों और इसे अंजाम देने वालों की हम निंदा करते हैं।’ उन्होंने यह भी कहा कि हमले के जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। गाजियांटेप की सत्ताधारी ‘जस्टिस ऐंड डिवेलपमेंट पार्टी’ के सांसद एम. एदार्गन ने कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इस विस्फोट के लिए कौन जिम्मेदार है, लेकिन ऐसी प्रबल आशंका है कि यह एक आत्मघाती हमला था।

एम एदार्गन ने कहा कि हमले के तरीके से लगता है कि उसे इस्लामिक स्टेट या कुर्द वर्कर्स पार्टी (पीकेके) ही अंजाम दे सकते हैं। यह विस्फोट शहर के साहिंबे जिला में हुआ था और बताया जाता है कि इस इलाके में बडी तादाद में कुर्द निवासी रहते हैं। इस वजह से इसमें इस्लामिक स्टेट (आईएस) जिहादियों की भागीदारी की आशंका है। रिपोर्ट के मुताबिक, विवाह समारोह में कुर्द लोगों की बहुतायत थी।

Loading...

गाजियांटेप से एकेपी के सांसद सामिल तय्यार के हवाले से दोगन समाचार एजेंसी ने बताया, ‘आरंभिक सूचना में यह सुझाया गया है कि इस हमले को आईएस ने अंजाम दिया हो।’ उन्होंने कहा, ‘इस इलाके में हमारे कई कुर्द भाई रहते हैं।’ कुर्द पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (एचडीपी) समर्थक ने कहा कि इसके सदस्य विवाह समारोह में मौजूद थे और इसमें शामिल होने के लिए कई महिलाएं और बच्चे भी आए थे।

उप प्रधानमंत्री एम. सिमसेक ने कहा, ‘हमले का मकसद लोगों को डराना है, लेकिन हम इसकी इजाजत नहीं दे सकते।’ तुर्की की संसद में गाजियांटेप का प्रतिनिधित्व करने वाले सिमसेक ने यह भी कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि हमले के लिए आत्मघाती बम विस्फोट का इस्तेमाल किया गया। घटना स्थल की तस्वीरों में कफन में लिपटे शव और पीड़ितों के परिजन व्याकुल नजर आ रहे हैं जबकि सड़क पर सन्नाटा पसरा है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *