Wednesday , March 27 2019
Breaking News

लोकसभा चुनाव 2019: अपना दल (एस) के खाते में 2 सीटें, मिर्जापुर से लड़ेंगी अनुप्रिया

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 की सरगर्मियों के बीच शुक्रवार को उत्तर प्रदेश में बीजेपी-अपना दल (एस) के बीच गठबंधन फाइनल हो गया. अपना दल (एस) यूपी में दो सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगा. मिर्ज़ापुर सीट अपना दल के कोटे में है और अनुप्रिया पटेल मिर्ज़ापुर से सांसद हैं. यह सीट फिर से अपना दल को मिली है. एक और सीट के नाम का ऐलान जल्द होगा. अनुप्रिया पटेल और अपना दल अध्यक्ष आशीष पटेल ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से आज दिल्ली में मुलाकात की. मुलाकात के बाद इस बात की घोषणा की गई.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इस संबंध में ट्वीट भी किया. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “फिर एक बार-मोदी सरकार” के संकल्प के साथ ‘भाजपा-अपना दल’ गठबंधन उत्तरप्रदेश में लोकसभा चुनाव साथ-साथ लडेगा. अपना दल प्रदेश की दो सीटों पर चुनाव लडेगा, जिसमे श्रीमती @AnupriyaSPatel जी मिर्जापुर से चुनाव लड़ेंगी और दूसरी सीट पर दोनों दलों के नेता बैठकर चर्चा करेंगे.”

कुछ समय पूर्व अपना दल (एस) की बीजेपी से नाराजगी की खबरें आई थीं. हालांकि बीजेपी अपना दल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को अपने खेमे में बनाए रखने में सफल रही. बीजेपी-अपना दल (एस) के बीच गठबंधन फाइनल होने पर अनुप्रिया ने भी एक ट्वीट किया:

Anupriya Patel

Loading...

मिर्जापुर से चुनाव लड़ेंगी अनुप्रिया
केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल एक बार फिर से मिर्जापुर से चुनाव लड़ेंगी. 2014 के चुनाव में अनुप्रिया ने करीब 2 लाख मतों से जीत हासिल की थी. उन्हें बसपा प्रत्याशी समुद्र बिंद ने टक्कर दी थी और करीब 2 लाख मत हासिल किए थे. कांग्रेस तीसरे स्थान पर रही थी. कांग्रेस के उम्मीदवार ललितेशपति त्रिपाठी को डेढ़ लाख वोट मिले थे. इस बार सपा-बसपा गठबंधन के मिलकर चुनाव लड़ने के कारण यह सीट सपा के खाते में है. सपा इस सीट से अपने प्रत्याशी की घोषणा भी कर चुकी है. 2019 में अनुप्रिया का मुकाबला सपा प्रत्याशी राजेंद्र एस बिंद से होगा. मिर्जापुर लोकसभा सीट पर बिंद समाज के मतदाता अच्छी खासी तादाद में हैं.

उधर, कांग्रेस ने एक बार फिर से ललितेशपति त्रिपाठी पर भरोसा जताया है. कुलमिलाकर, मिर्जापुर सीट पर सपा, कांग्रेस और अपना दल (एस) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होगा. ललितेश पति त्रिपाठी पूर्व रेल मंत्री कमलापति त्रिपाठी के प्रपौत्र हैं.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *