Sunday , December 6 2020
Breaking News

सुराग मिलने का दावा, बदमाश गिरफ्त से दूर

up-police19लखनऊ। राजधानी की 5 सनसनीखेज वारदातों में सुराग मिलने के बाद भी पुलिस बदमाशों तक नहीं पहुंच पा रही है। पुलिस की टीमें कई जिलों का चक्कर लगाकर लौट आईं, लेकिन लुटेरे नहीं मिले। पुलिस की छानबीन अब आगे की कार्रवाई पर टिकी है।

कैंट स्थित यूनाइटेड बैंक की महिला कर्मचारी से 19 जनवरी को हुई लूटपाट में पुलिस ने बदमाशों का नाम व पता हासिल कर लिया। टीमें उनकी तलाश में जलपाई गुड़ी और बिहार तक चक्कर लगा आईं, लेकिन लुटेरों का सुराग नहीं लगा। खानाबदोश जीवन जीने वाले बदमाश ठिकाना बदलकर यूपी में ही रह रहे हैं। ऐसे में लुटेरों तक पहुंचने के लिए आसपास के जिलों की पुलिस से भी मदद ली जा रही है, लेकिन अब तक गैंग के फरार सदस्यों के बारे में कोई ठोस जानकारी नहीं मिली। इसी गैंग ने हजरतगंज में राजभवन के पास सुरक्षा एजेंसी के संचालक से भी लूट की थी, लिहाजा पुलिस को दोनों वारदात में ग्वाला गैंग की ही तलाश है।

मुजफ्फरनगर से भी भाग गए बदमाश
ठाकुरगंज इलाके में रेलवे के रिटायर्ड अफसर सैय्यद आसिफ अब्बास के घर मुजफ्फरनगर के बदमाशों ने डकैती डाली थी। पुलिस ने उनका भी नाम व पता तलाश लिया, लेकिन पुलिस की टीमों के पहुंचने से पहले ही लुटेरे सारा माल बटोर कर चंपत हो गए। पुलिस ने उनकी तलाश में मुजफ्फरनगर से लेकर बिहार के कई जिलों की। अब सर्विलांस की मदद ली जा रही है। संदेह के घेरे में आए उनके करीबियों का ब्योरा जुटाया जा रहा है। एसएसपी मंजिल सैनी ने क्राइम ब्रांच को उनकी तलाश में लगाया है।

Loading...

सीमावर्ती जिलों के बदमाशों पर नजर
मलिहाबाद इलाके में 4 घरों में 10 अगस्त और उसी के 24 घंटे बाद चिनहट इलाके में कारोबारी के घर डकैती डालने वाले बदमाश भी पुलिस के लिए चुनौती बने हुए हैं। लगातार 2 दिन में डकैती की ताबड़तोड़ दो वारदात होने से ग्रामीण इलाकों की पुलिसिंग पर भी सवाल उठने लगे हैं। पुलिस को इन डकैतों के बारे में ठोस सुराग नहीं मिला है, लेकिन शक सीमावर्ती जिलों के गैंग पर गहरा रहा है। डकैतों तक पहुंचने के लिए पुलिस उनके हुलिये के आधार पर छानबीन कर रही है। पुलिस की दो टीमें अब भी एक जिले में संदेह के घेरे में आए एक गैंग के बारे में छानबीन कर रही हैं।

लखनऊ जोन के IG ए सतीश गणेश ने कहा, ‘क्राइम मीटिंग में 19 माह के भीतर हुई वारदात की समीक्षा की गई है। लखनऊ के अलावा कई जिलों में ऐसे हालात सामने आ रहे हैं कि वहां की पुलिस घटना का खुलासा नहीं कर पा रही है। वहां के कप्तानों को अल्टीमेटम दिया गया है। हर जिले की सर्विलांस सेल और क्राइम ब्रांच की टीमों को भी अलर्ट किया गया है। बदमाशों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *