Thursday , November 26 2020
Breaking News

AAP से सिद्धू की बातचीत खटाई में पड़ी तो कांग्रेस ने खोले दरवाजे, दिए कई लुभावने ऑफर

navjot-singh-sidhuनई दिल्ली। क्रिकेटर से राजनीति में आए नवजोत सिंह सिद्धू के आम आदमी पार्टी में जुड़ने की बातचीत खटाई में पड़ती देख कांग्रेस ने भी उनके लिए बातचीत के दरवाजे खोल दिए हैं. पार्टी सूत्रों का कहना है कि पूर्व बीजेपी सांसद सिद्धू को आप में जुड़ने से जो कुछ मिलता, वह उन्हें उससे ज्यादा देने को तैयार है.

पिछले ही महीने बीजेपी से नाता तोड़ने का ऐलान कर चुके सिद्धू के आप से जुड़ने की बात कमोबेश पक्की मानी जा रही थी. हालांकि सूत्रों के मुताबिक, पिछले हफ्ते सिद्धू ने जब केजरीवाल से उन्हें राज्य में सीएम पद के लिए आप का उम्मीदवार बनाए जाने की मांग की तो यह बातचीत खटाई बातचीत खटाई में पड़ गई.  सूत्रों ने साथ ही बताया कि 52 वर्षीय सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर के लिए भी पार्टी से टिकट मांगा. कौर फिलहाल पंजाब में बीजेपी की विधायक हैं, लेकिन उनके भी जल्द ही आप में जुड़ने की संभावना है.

आप द्वारा इन मांगों को ठुकराए जाने के बाद सिद्धू ने संकेत दिए कि वह दूसरे विकल्प तलाश रहे हैं और ऐसे में कांग्रेस भी उन्हें लुभाने की कोशिश में जुट गई है. कांग्रेस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि सिद्धू को भावी मुख्यमंत्री तो नहीं, लेकिन दो-तीन साल बाद उपमुख्यमंत्री बनाने में पार्टी को कोई आपत्ति नहीं.

Loading...
कांग्रेस सिद्धू या उनकी पत्नी को अमृतसर की लोकसभा सीट भी दे सकती है. सिद्धू इसी सीट से बीजेपी के सांसद हुआ करते थे, लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव में पार्टी ने उनका टिकट काट, अरुण जेटली को यहां से खड़ा किया और इसी को लेकर सिद्धू की पार्टी से तल्खी पैदा हुई. हालांकि जेटली को कांग्रेस उम्मीदवार कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हरा दिया था. अमरिंदर अब राज्य कांग्रेस के सीएम उम्मीदवार हैं, तो ऐसे में चुनाव जीतने पर उन्हें यह सीट छोड़नी होगी. हालांकि कांग्रेस सूत्र का कहना है कि इन सबके लिए पहले सिद्धू को बातचीत के लिए आगे आना होगा, जो कि अब तक नहीं हुआ है.

वहीं इस बीच 52 वर्षीय क्रिकेटर कमेंटेटर से बातचीत आधिकारिक तौर पर स्वीकार कर चुकी आप अब उनसे बेगानी बनती दिख रही है. इसी सिलसिले में आप नेता आशुतोष ने किसी का नाम ना लेते हुए कहा, ‘हमारे दरवाजे ईमानदार नेताओं के लिए हमेशा खुले हैं, सौदेबाजी की कोशिश करने वालों के लिए नहीं. अगर आप हमसे जुड़ना चाहते हैं, तो बिना किसी शर्त के जुड़े.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘जहां तक मुझे पता है सिद्धू ने बीजेपी नहीं छोड़ी है.’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *