Breaking News

पुरुष हॉकी: नीदरलैंड ने भारत को 2-1 से हराया

rio hockeyरियो डी जनीरो। रियो ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम को विश्व की नंबर 2 टीम नीदरलैंड ने 2-1 से हरा दिया। हालांकि भारतीय टीम को मैच के अंतिम 6 सेकंड में 5 पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन भारतीय खिलाड़ी मौके का फायदा नहीं उठा पाए। आज भारतीय टीम की कमान मनप्रीत सिंह से संभाली। आपको बता दें कि अगर भारतीय हॉकी टीम आज का मैच जीत जाती तो वह क्वॉर्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर लेती।

पहले क्वॉर्टर की शुरुआत से ही दोनों टीमें अक्रामक रूप में दिखीं लेकिन साथ ही उन्होंने रक्षात्मक खेल दिखाया। दोनों ओर से गोल करने की कोशिश कई बार की गई लेकिन किसी को सफलता नहीं मिल सकी। इसी के साथ पहला क्वॉर्टर बिना किसी गोल के 0-0 के स्कोर के साथ समाप्त हो गया। दूसरे क्वॉटर में भी भारत ने शानदार हॉकी का खेल दिखाते हुए नीदरलैंड को गोल करने का कोई मौका नहीं दिया। इसी बीच वी सुनील के पास को गोल में बदलने का एक बाहतरीन मौका निकिन तमैया से छूट गया। भारतीय रक्षापंक्ति के शानदार प्रदर्शन के चलते दूसरे क्वॉर्टर की समाप्ति तक स्कोर 0-0 पर ही रुका रहा। पिछले मैचों में पेनल्टी कॉर्नर लुटाने वाली भारतीय टीम ने दूसरे क्वॉर्टर की समाप्ति तक नीदरलैंड की टीम को कोई पेनल्टी कॉर्नर नहीं दिया।

तीसरे क्वॉर्टर में भारतीय टीम ने पहले ही मिनट में जोरदार हमला किया लेकिन भारतीय टीम गोल करने में नाकाम रही। इसके बाद नीदरलैंड की टीम को पेनल्टी कॉर्नर मिला जिसे गोल में बदलने में डच टीम ने कोई गलती नहीं की। इस पेनल्टी कॉर्नर पर हॉफमैन रॉजियर ने 32वें मिनट में रीबाउंड पर गोल करते हुए नीदरलैंड की टीम को बढ़त दिला दी। तीसरे क्वार्टर के अंतिम 8 मिनट में भारत ने मूव बनाया और पहला पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया लेकिन भारतीय टीम इस मौके को गोल में नहीं बदल पाई। इसी शॉट पर भारत को दूसरा पेनल्टी कॉर्नर जिसे गोल में बदलने में वीआर रघुनाथ ने कोई गलती नहीं की और मुकाबले को 1-1 की बराबरी पर ला दिया।

Loading...

तीसरे क्वॉर्टर के अंतिम 3 मिनट में भारतीय खिलाड़ी सुनील और रघुनाथ को अंपायर ने येलो कार्ड दिखा दिया। इसके बाद भारतीय टीम को अगले 5 मिनट तक 9 खिलाड़ियों से ही खेलना पड़ा। तीसरा क्वॉर्टर 1-1 की बराबरी पर समाप्त हो गया। चौथे क्वार्टर के शुरुआत में भारतीय टीम 9 खिलाड़ियों के साथ मैदान पर आई और तीसरे मिनट में डच टीम को दूसरा पेनल्टी कॉर्नर दे दिया। हालांकि इस बार नीदरलैंड की टीम मौके का फायदा नहीं उठा सकी और बढ़त नहीं ले पाई। इसके बाद नीदरलैंड को लगातार तीन और पेनल्टी कॉर्नर मिले जिसमें अंतिम मौके को नीदरलैंड ने गोल में तब्दील कर दिया। हालकि भारत को अंतिम 3 मिनट में एक और पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन भारतीय टीम गोल नहीं कर पाई। आखिरी 6 सेकंड में भारत को लगातार 5 पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन भारतीय टीम गोल नहीं कर पाई और मैच हार गई।

आपको बता दें कि शुरुआती मैच में आयरलैंड पर 3-2 की करीबी जीत हासिल करने के बाद भारतीय टीम को मौजूदा ओलिंपिक चैम्पियन जर्मनी से 1- 2 से निराशाजनक हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन पूल बी के तीसरे मैच में वापसी करते हुए भारतीय टीम ने अर्जेंटीना पर 2-1 की जीत दर्ज करते हुए पूल की शीर्ष 4 टीमों में अपनी जगह पक्की की थी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *