Friday , November 27 2020
Breaking News

चीन ने भारत को चेताया, …तो अच्छा नहीं होगा

sushma chinaपेइचिंग। चीन ने अपने विदेश मंत्री वांग यी के भारत दौरे से पहले दक्षिण चीन सागर विवाद के मद्देनजर इशारों-इशारों में भारत को आगाह किया है। उसने कहा है कि यांग के दौरे के बीच भारत को दक्षिण चीन सागर विवाद पर ‘गैरजरूरी उलझन’ वाली स्थिति से दूर रहना चाहिए ताकि यह द्व‍िपक्षीय रिश्‍तों को प्रभावित करने वाला एक और कारण नहीं बन सके।

वांग यी इसी हफ्ते भारत के दौरे पर आने वाले हैं और 13 अगस्‍त को वह विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज से मुलाकात करेंगे। माना जा रहा है कि इस मुलाकात के दौरान द्व‍िपक्षीय रिश्‍तों के अलावा परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में भारत की एंट्री को लेकर भी बातचीत हो सकती है।

चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स की रिपोर्ट में कहा गया, ‘अगर भारत, चीन के साथ आर्थिक सहयोग के लिए अच्‍छा वातावरण तैयार करना चाहता है तो उसे साउथ चाइना सी पर वांग यी के दौरे के बीच गैरजरूरी उलझन वाली स्थिति से बचना चाहिए। आर्थिक सहयोग की इस कड़ी में चीन को निर्यात होने वाले मेड इन इंडिया प्रॉडक्‍ट्स पर शुल्‍क भी शामिल है जिस पर मुक्‍त व्‍यापार के तहत बातचीत चल रही है।’
इसमें आगे कहा गया, ‘माना जा रहा है कि अपने घरेलू उद्योगों को बचाने वाले कदम के तहत भारत मेड इन चाइना प्रॉडक्‍ट्स पर शुल्‍क दर में सिर्फ मामूली कटौती कर सकता है। अगर भारत चाहता है कि शुल्‍क दर में कमी के मुद्दे पर चीन ज्‍यादा उदार बने तो भारत के लिए इस तरह का कदम (दक्षिण चीन सागर विवाद पर बात करने वाला) काफी बेवकूफी भरा होगा जिससे चीन के साथ उसके रिश्‍ते और ज्‍यादा खराब हो जाएं।’

Loading...

इसके साथ ही ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कहा कि यह काफी हैरानी वाली बात है कि भारत इस वक्‍त दक्षिण चीन सागर विवाद का मुद्दा उठा रहा है। उसने कहा क‍ि इस तरह के कदम की वजह से द्विपक्षीय रिश्‍तों पर गैरजरूरी साइड इफेक्‍ट्स हो सकते हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *