Wednesday , December 2 2020
Breaking News

संसद में टूटा मनमोहन का मौन, आंध्र प्रदेश के मसले पर मोदी सरकार को घेरा

mannoनई दिल्ली। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह लंबे अरसे बाद शुक्रवार को संसद में बोले. मनमोहन सिंह ने आंध्र प्रदेश रिऑर्गनाइजेशन बिल पर मोदी सरकार पर आरोपों की झड़ी लगा दी. उन्होंने राज्यसभा में कहा कि केंद्र आंध्र प्रदेश के स्पेशल पैकेज जारी करे. इस मुद्दे पर चर्चा के दौरान बीजेपी और कांग्रेस में तीखी बहस भी हुई.

मनमोहन सिंह ने इस मुद्दे पर अपनी बात रखते हुए कहा कि मोदी सरकार की ओर से दो साल पहले किए गए वादे पूरे किए जाएं. कांग्रेस सदस्य के वी पी रामचंद्र राव के ‘आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक’ को उच्च सदन ने लोकसभा अध्यक्ष के पास उसके भविष्य पर फैसला करने के लिए भेज दिया. टीडीपी सदस्य कई दिनों से संसद और उसके बाहर इस मांग को उठा रहे हैं.

चंद्रबाबू नायडू ने पीएम से की मुलाकात
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को पीएम मोदी से मुलाकात की और विशेष राज्य का दर्जा देने का मुद्दा उठाया. इस पर पीएम ने कुछ तकनीकी मुद्दों का हवाला दिया लेकिन भरोसा दिलाया कि इस मामले पर गौर किया जाएगा.

राज्य में सत्तारूढ़ टीडीपी के सांसदों ने प्रधानमंत्री से अलग से मुलाकात की और यह मुद्दा उठाया. मोदी ने उनको भरोसा दिलाया कि सांसदों की समस्याएं उनकी समस्याएं हैं और आंध्र प्रदेश के लोगों के साथ न्याय होगा.

Loading...

राहुल भी कूदे मैदान में
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मसले पर जनता के साथ विश्वासघात करने का आरोप पीएम मोदी पर लगाया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘मोदीजी, आपके लिए एक याद दिलाने वाली बात है. आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने का फैसला इस देश की संसद ने साल 2014 में किया था. आज आंध्र प्रदेश की पांच करोड़ जनता बीजेपी-टीडीपी को विश्वासघात करते हुए देख रही है.

नायडू ने किया सरकार का बचाव
केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जे के मुद्दे पर कांग्रेस पर निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस दोहरा मानदंड अपना रही है और अवसरवाद पर उतर आई है. उन्होंने इस मुद्दे पर लोकसभा में कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली के उस भाषण की याद दिलाई जिसमें उन्होंने आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा दिए जाने का विरोध किया था. नायडू ने यह भी कहा कि आंध्र प्रदेश के लिए जितना मोदी सरकार ने किया, उतना किसी ने नहीं किया.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *