Sunday , November 29 2020
Breaking News

नसीमुद्दीन के खिलाफ बीजेपी की महिला कार्यकर्ता करेंगी प्रदर्शन

keshawइलाहाबाद। मायावती भले ही दयाशंकर मामले में टकराव का रास्ता छोड़कर चुनावी तैयारियों पर फोकस करने की बात कह रही हो लेकिन बीजेपी इस मामले में उन्हें ढील नहीं देना चाहती। इसीलिए पार्टी ने महिला कार्यकर्ताओं को 28 जुलाई को लखनऊ पहुंचने का फरमान सुना दिया है। पार्टी की महिला कार्यकर्ता स्वाति सिंह और उनकी बेटी को न्याय और नसीमुद्दीन सिद्दीकी समेत अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विरोध-प्रदर्शन करेंगी।

प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने सोमवार को इलाहाबाद में मीडिया से बात करते हुए कहा कि, बीएसपी सुप्रीमो को खुद इस मामले में नसीमुद्दीन के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाना चाहिए था। ऐसा नहीं किया गया इसलिए अब बीजेपी इस मामले को लेकर आंदोलन तेज करेगी। पार्टी ने महिला मोर्चे को पूरी ताकत के साथ इस आंदोलन को तेज करने के निर्देश दिए हैं। जब तक नसीमुद्दीन सिद्दीकी को बर्खास्त नहीं किया जाता, आंदोलन चलता रहेगा। 28 जुलाई को लखनऊ में होने वाले प्रदर्शन में प्रदेश के सभी जिलों से महिला कार्यकर्ता पहुंचेंगी।

स्वाति चाहें तो पार्टी टिकट देने को तैयार
केशव प्रसाद ने कहा कि, दयाशंकर की पत्नी स्वाति अगर चुनाव लड़ने के लिए तैयार हों तो पार्टी उन्हें मनचाही सीट से टिकट देने को तैयार है। पार्टी महिलाओं के सम्मान पर किसी भी कीमत पर समझौता नहीं करेगी।

Loading...

अलीगढ़ से हिन्दुओं के पलायन पर होगा आंदोलन
प्रदेश अध्यक्ष ने अलीगढ़ से हिन्दुओं के पलायन को चिंताजनक बताया और कहा कि, सत्ताधारी पार्टी के विधायकों की दबंगई के कारण ही ऐसा हो रहा है। प्रदेश सरकार को चाहिए कि पलायन करने वाले परिवारों को रोकने के लिए कदम उठाए। ऐसा न हो कि, अलीगढ़ में भी कैराना जैसे हालात बन जाएं। यदि ऐसी नौबत आयी तो बीजेपी इस मामले में चुप नहीं बैठेगी। इस मामले को लेकर कार्यकर्ता सड़क पर उतरने से नहीं चूकेंगे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *