Monday , November 30 2020
Breaking News

सुनिए 3 आडियो, UP के नए मुख्य सचिव दीपक और अमर सिंह कैसे किए करोड़ों की डील

chief-secretaryलखनऊ। 18 वरिष्ठ आईएएस अफसरों को पछाड़कर यूपी के मुख्य सचिव की कुर्सी हथियाने वाले दीपक सिंघल सेटिंग-गेटिंग में माहिर हैं। अमर सिंह के एक इशारे पर कोई भी डील पक्की कर सकते हैं। मुलायम सरकार में अमर सिंह ने चहेते अफसर दीपक सिंघल से मिलकर नोएडा-ग्रेटर नोएडा में एसईजेड बनाने की मनमाफिक नीतियां तय करवाईं।  इसका सुबूत देखना हो तो अमर सिंह-सिंघल की लीक हुुई बातचीत के आडियो सुनिए। यह बातचीत 2006 की है,  जब मुख्यमंत्री मुलायम सिंह रहे तो अमर सिंह विकास परिषद के चेयरमैन। इस दौरान अमर सिंह की दो महीने फोन पर बातचीत टैप हुई। पता चलने पर अमर ने रिलायंस और केंद्र की कांग्रेस सरकार पर मिलीभगत कर फोन टैपिंग के आरोप लगाते हुए बातचीत सार्वजनिक होने पर  कोर्ट से रोक लगवा दी थी। बाद में मई 2011 में सुप्रीम कोर्ट ने टेप उजागर होने पर लगी रोक हटा ली थी, जिसके बाद सीनियर आईएएस सिंघल से गैस डीलिंग, नोएडा में विशेष आर्थिक जोन(एसईजेड) बनाने में मनमाफिक नीति तय करने और देवेंद्र नामक के शख्स को काम के बदले में 96.5 लाख रुपये पहुंचाने की बातें उजागर हुईं तो सिंघल के दामन पर पहले से लगते दाग और गहरा गए। अब चूंकि दागी आईएएस सिंघल इस बार यूपी के सबसे बड़े नौकरशाह की कुर्सी पर पहुंचे हैं, इस नाते इनके पुराने डीलिंग के कथित टेप फिर से मौजू हो उठे हैं।

2014 में नूतन ठाकुर ने की शिकायत, फिर भी नहीं हुई जांच

जब दीपक सिंघल को अखिलेश सरकार ने प्रमुख सचिव गृह बनाया तो तीन जून 2014 को आरटीआई एक्टिविस्ट नूतन ठाकुर ने उनकी अमर सिंह के साथ हुई डीलिंग के तीन टेपों का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय से शिकायत की। मगर कहा जाता है कि रसूख के दम पर दीपक सिंघल के खिलाफ जांच नहीं हो सकी।

टेप 1ट्रांसक्रिप्ट, -गुड इवनिंग, मिस्टर अमर सिंह रेजिडेंस। साहब होंगे क्या, दीपक बोल रहा था।नमस्कार सर, दीपक बोल रहा था। हां बोलिए, सर वह तो हो गई थी शुगर वली, वह क्लीयर हो गई। बहुत-बहुत धन्यवाद। और दूसरा सर, उसका भी डिस्कशन हो गया है, आज इन्वेस्टमेंट बोर्ड वाले में, जो आपने लिखे हैं 12-13 प्वाइंट में उस पर भी चीफ सेक्रेटरी के सामने डिस्कशन हो गए हैं। स्टीयरिंग कमेटी की बैठक के लिए जो चीफ सेक्रेटरी कह रहे थे, दो-तीन दिन में डेट दे देंगे, स्टीयरिंग कमेटी में सब के प्रस्ताव बना के, स्टीयरिंग कमेटी से क्लीयर करा के, सबके प्रस्ताव हो जाएगा। हां यह ठीक है। जी सर, ठीक है साहब, थैंक यू साहब, एसईजेड के बारे में मैं यह सोच रहा हूं, एसईजेड के लिए क्या कानपुर वाले शुरू कर दिए हैं प्रोसेस टेंडर वेंडर का। कानपुर का तो अभी चल रहा है, अभी इस स्टेज पर है जैसे कि टेंडर डॉक्यूमेंट फाइनलिजशन का काम हो चुका है। उस पर न्याय विभाग की राय आ रही है और उसको अब ओपन टेंडर प्रोसेस से रिलीज होना है। दो चार दिन में। ये कभी नहीं होगा अब राजस्थान में ये हो गया, वन टू वन, चंडीगढ़ में ये हो गया वन टू वन, मैं इसके लिए एक एसईजेड पालिसी बना देता हूं। और उस पालिसी में दो-तीन आदमी को डालकर साइन करवा देता हूं। बहुत अच्छा रहेगा सर। उसमे सर एक चीज़ हो सकती है आपने कहा था सोचने के लिए उसमें सर यह हो जाए कि लैंड अलोटमेंट टू एसईजेड की पालिसी बन जाए फिर कोई दिक्कत नहीं है। नहीं-नहीं लैंड अलोटमेंट तो लीज़ करवा दूंगा। नहीं नहीं लैंड अलोटमेंट हो जाएगा एसईजेड बन जायेगी नॉएडा की वजह से नॉएडा की एसईजेड बन जायेगी तो 99 साल के लिए लैंड अलोटमेंट हो जाएगा। बिलकुल सर। उसमे कोई दिक्कत नहीं है। वह हम आपसे बैठ कर बात भी कर लेंगे, थैंक यू।………..।

टेप-2-सुनिए आडियो, अमर सिंह व दीपक सिंघल के बीच गैस डील की

गुड इवनिंग, मिस्टर अमर सिंह रेजिडेंस। साहब हैं। हेलो। हाँ सर दीपक बोल रहा था माफ़ कीजियेगा। हाँ।सर वो जो गैस वाली डील जो थी और इक्कतीस थी नॉएडा में।अच्छा अच्छा ठीक है।ग्रेटर नॉएडा वाले आये थे वो जो राजीव शर्मा हैं तो उन्हें बता भी दिया है 31 तारीख को मीटिंग लग गयी है 31 को

Loading...

वो कह रहा था संजीव शरण कि नॉएडा में आधा दे दें ग्रेटर नॉएडा हमको। आधा दे दें मतलब नॉएडा में दोनों। सॉरी सर, नॉन-एक्सक्लूसिव बेसिस पर आप जिसको चाहें दे देंगे दोनों, मतलब एक आदमी को जिस एरिया में आप देते हैं सेकण्ड मैं कैन आल्सो बी गिवेन, बट दे हैव नॉट अप्लाइड इन ग्रेटर नॉएडा। हाँ, दे हैव नॉट अप्लाइड। दे हैव अप्लाइड ओनली इन नॉएडा सर

सर, एक चीज़ और रिक्वेस्ट करनी थी यदि आप मुनासिब समझें, सर वो आईडीसी साहब ने एक नोट जो भेजा था जो मैं इंडस्ट्री में सेक्रेटरी का भी काम जो देख रहा था, ये सारे आइटम मैं उनके बिहाफ पर देख रहा हूँ तो यह फाइल उन्होंने नए चीफ सेक्रेटरी के सामने भेज रखी है, अगर वे सीन ही कर लेते तो कम से कम फाइल पर रह जाता। अच्छा ठीक है, मैं बात कर लेता हूँ

टेप 3-अमर सिंह-दीपक सिंघल के बीच 96 लाख पहुंचाने की बात

हेलो साहब बात करेंगे आपसे अमर सिंह जी। हाँ कराईये। हाँ दीपक सर बोल रहा हूँ।साढ़े छियानवे लाख वो देवेंदर कुमार को देना है, हम नंबर उनका दें आपको मेरे पास नंबर है उनका आरडीए वाले। हाँ, आरडीए वाले हैं 98 आरसीए वाले हाँ, आपके पास नंबर है ना। सर मेरे पास है। साढ़े छियानवे लाख आँ ठीक है

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *