Breaking News

हाफिज सईद के संगठन से जुड़ा जाकिर नाइक का ‘लिंक’, मुस्ल‍िम धर्म प्रचारक पर एक्शन मोड में मोदी सरकार

zakirनई दिल्ली। इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक के तार अब आतंकी हाफिज सईद से जुड़ गए हैं. जमात-उद-दावा की वेबसाइट पर जाकिर के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) का लिंक मिला है. यही नहीं, आईआरएफ की साइट पर भी जमात-उद-दावा के ट्रेनिंग प्रोग्राम का पूरा ब्योरा दिया गया है.

बता दें कि जमात-उद-दावा आतंकी हाफिज सईद का संगठन है, जिसकी पुरानी वेबसाइट पर आईआरएफ का साफ-साफ जिक्र किया गया है. यही नहीं, इस वेबसाइट के आर्काइव पेज में भी आईआरएफ की वेबसाइट के लिंक दिए गए हैं. इसी तरह जाकिर नाइक के फाउंडेशन आईआरआफ की वेबसाइट पर भी जमात-उद-दावा के ट्रेनिंग प्रोग्राम का पूरा ब्योरा मिला.

यह खुलासा ऐसे समय हुआ है जब बांग्लादेश में हुए आतंकी हमलों में जाकिर के उपदेशों का जिक्र आया है. इसके बाद से भी विवादित मुस्लि‍म धर्म प्रचारक को बैन करने की मांग तेज हो गई है. तमाम विरोध और विवाद के बीच महाराष्ट्र सरकार ने जाकिर नाइक के भाषणों की जांच के आदेश दे दिए हैं, वहीं केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने भी नाइक के उपदेशों को आपत्ति‍जनक बताते हुए कार्रवाई के संकेत दिए हैं.

कमिश्नर को जल्द से जल्द जांच रिपोर्ट सौंपने के आदेश
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को जाकिर नाइक के ऊपर लगे आरोपों की जांच करने के आदेश दिए हैं और जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपने को कहा है. हालांकि, नाइक के साथ अभी तक किसी आतंकी घटना के तार नहीं जुड़े हैं. उनके खि‍लाफ जो भी मामले हैं वो घृणा फैलाने के हैं.

Loading...

नाइक ने आरोपों को किया खारिज
दूसरी ओर, जाकिर नाइक ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया है. उन्होंने कहा है कि जो भी मरने-मारने की बात करता है वह कुरान की खि‍लाफत कर रहा है. उन्होंने कहा, ‘आतंकियों को निश्चय ही निर्दोषों को मारने के लिए गुमराह किया गया होगा. भारतीय मीडिया कह रही है कि मैं आतंकियों को उकसा रहा हूं, जो पूरी तरह गलत है. मैं इस बात से इनकार करता हूं कि मैंने किसी को निर्दोष लोगों की हत्या करने के लिए प्रेरित किया. मैं आतंकवाद के पूरी तरह खि‍लाफ हूं.’

केंद्र सरकार ने भाषण को बताया आपत्ति‍जनक
मोदी सरकार ने मुस्लि‍म धर्म प्रचारक के भाषणों को अत्यंत आपत्तिजनक बताया है. गृह मंत्रालय इनका अध्ययन करने के बाद उचित कार्रवाई करेगा. सूचना और प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा, ‘गृह मंत्रालय अध्ययन करेगा. उनका अध्ययन करने के बाद उचित कार्रवाई करेगा. मीडिया में आ रहे उनके भाषण अत्यंत आपत्तिजनक हैं.’

गौरतलब है कि दिन पहले ही गृह राज्यमंत्री किरन रिजिजू ने नाइक के खिलाफ कार्रवाई का संकेत दिया था. समझा जाता है कि नाइक के भाषणों ने उन पांच बांग्लादेशी आतंकवादियों में से एक को प्रभावित किया, जिन्होंने ढाका में एक रेस्तरां पर हमला कर 22 लोगों की जान ले ली. रिजिजू ने कहा था, ‘जाकिर नाइक का भाषण हमारे लिए चिंता की बात है. हमारी एजेंसियां इस पर काम कर रहीं हैं. लेकिन एक मंत्री के रूप में, मैं इस पर टिप्पणी नहीं करूंगा कि क्या कार्रवाई की जाएगी.’

महेश गिरी ने राजनाथ सिंह को लिखी चिट्ठी
इस बीच पूर्वी दिल्ली से सांसद महेश गिरी ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह को चिट्ठी लिखकर जाकिर नाइक के ख‍िलाफ जांच की मांग की है. यही नहीं, उन्होंने इसके साथ ही केबल ऑपरेर्ट्स द्वारा पीस टीवी के प्रसारण पर भी रोक लगाने की मांग की है. इसी टीवी पर जाकिर के उपदेश और भाषणों का प्रसारण होता है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *