Breaking News

जानिए ढाका हमले के बाद सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ाने वाले जाकिर नाइक की पूरी कहानी

Zakir-Naikमुंबई के रहने वाले 50 साल के एक मुस्लिम उपदेशक ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है. दरअसल एक हफ्ते पहले ढाका में हमला करने वाले दो आंतकियों को जाकिर नाइक नाम के इस मुस्लिम धर्मगुरु से प्रेरित बताया जा रहा है. जाकिर के कई भड़काऊ बयान वाले वीडियो भी यू-ट्यूब पर जमकर देखे जा रहे हैं. आइए जानते हैं कि भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ाने वाला ये शख्स आखि‍र है कौन.

1. पीस टीवी के जरिए 20 करोड़ लोगों तक पहुंच का दावा
जाकिर का उपदेश पीस टीवी के माध्यम से लोगों तक पहुंचता है, लेकिन खास बात यह है कि उसके इस चैनल के पास भारत में लाइसेंस ही है. उनका दावा है कि उनके पास 20 करोड़ से ज्यादा दर्शक है और इन दर्शकों तक वह केबल टीवी के जरिए अपनी पहुंच बनाते हैं.

2. सोशल मीडिया पर करोड़ों फॉलोअर्स
फर्राटे की अंग्रेजी बोलने वाले नाइक सोशल मीडिया पर भी पूरी तरह एक्टिव हैं और दावा करते हैं कि सिर्फ फेसबुक पर ही उनके 1.4 करोड़ फॉलोअर्स हैं. जाकिर के ऑफिस में उनकी एक बड़ी टीम उनके ईमेल, ट्व‍िटर और फेसबुक अकाउंट को हैंडल करती है.

3. ढाका के हमलावर ने FB पर शेयर किया था जाकिर का भाषण
ढाका हमले में मारे गए 6 में से 2 आतं‍की निब्रास इस्लाम और रोहन इम्तियाज जाकिर से प्रभावित थे और उसकी स्पीच सुनते थे. इम्तियाज ने तो पिछले साल जाकिर की एक स्पीच को फेसबुक पर शेयर भी किया था.

4. कहा- 90 फीसदी बांग्लादेशी मुझे जानते हैं
जाकिर ने ढाका हमले के बाद दावा किया, ‘ लगभग 90 फीसदी बांग्लादेशी मुझे जानते हैं, इनमें सीनियर नेता, बिजनेसमैन, स्टूडेंट्स और दूसरे लोग शामिल हैं.’ जाकिर ने कहा था कि इनमें से करीब 50 फीसदी लोग मेरे फैन हो सकते हैं.

5. बेटा भी नाइक के नक्शे कदम पर
बचपन में हकलाने वाले जाकिर नाइक ने इस्लामिक इंटरनेशनल स्कूल खोला हुआ है, जहां उनकी दो बेटियां और बेटा भी पढ़ते थे. उनकी पत्नी फरहत इस स्कूल की महिला विंग की प्रमुख हैं. जाकिर के एक जानने वाले ने बताया कि बेटा भी बाप के पदचिह्नों पर चल रहा है और एक उपदेशक बनने की ओर अग्रसर है.

Loading...

6. वीडियो से छेड़छाड़ का दावा
जाकिर ने माना कि उन्होंने कहा था कि हर मुस्लिम को एक आतंकी होना चाहिए ताकि वो असामाजिक तत्वों के मन में आतंक भर सके. उन्होंने कहा, ‘मैंने हमेशा कहा है कि किसी भी मुस्लिम को इंसान के लिए आतंक पैदा नहीं करना चाहिए. सिंगापुर में ओसामा के बारे में दिए गए मेरे बयान से भी छेड़छाड़ की गई है. ओसामा न तो मेरे लिए दोस्त है और न दुश्मन. मैं तो उसे जानता ही नहीं. मैंने उसे न कभी आतंकी कहा है और न ही संत. यूट्यूब पर मेरे कई वीडियो ऐसे हैं जो डॉक्टर्ड हैं.’

7. ऐसे बने मुस्लिम उपदेशक
जाकिर ने मुंबई के टोपीवाला नेशनल मेडिकल कॉलेज एंड बीवाईएल चैरिटेबल हॉस्पिटल से अपनी एमबीबीएस के आखिरी साल में दक्ष‍िण अफ्रीका के इस्लामिक उपदेशक अहमद दीदत का लेक्चर सुना था. ये 80 के दशक के आखिर की बात है. दीदत ने तब दूसरे धर्मों के मुकाबले इस्लाम को महान साबित करके काफी नाम कमाया था. दीदत को देखकर ही जाकिर बड़े इस्लामिक उपदेशक बने. जाकिर का सफर करीब से देखने वाले उनके एक दोस्त ने बताया, ‘वह अंग्रेजी में लेक्चर देने वाले दीदत का क्लोन बन गया है.’

8. जब जाकिर को मांगनी पड़ी थी माफी
2009 में जाकिर के भाषणों के चलते सुन्नी मौलवी उनके खिलाफ एकजुट हो गए थे और शिया भी नाइक के खिलाफ एकजुट होकर मुंबई के तत्कालीन ज्वॉइंट कमिश्नर केएल प्रसाद के पास शिकायत लेकर चले गए थे. प्रसाद ने जाकिर से माफी मंगवाकर इस मामले को सुलझाया था.

9. पांच साल से ब्रिटेन और कनाडा में लेक्चर बैन
2011 से ब्रिटेन और कनाडा में जाकिर के लेक्चर बैन हैं. उनकी पीस कॉन्फ्रेंस बॉलीवुड शोज से भी भव्य होती हैं. मुंबई पुलिस के की इजाजत न होने के चलते वे यहां कोई पीस कॉन्फ्रेंस नहीं कर पा रहे.

10. वर्कप्लेस पर सेक्स के सवाल पर दिया ये जवाब
आईआईटी मुंबई के एक छात्र ने जाकिर से पूछा था कि इस्लाम काम की जगह पर सेक्स की इजाजत नहीं देता- यह आधुनिक सोच है या पुरातनपंथी?’ नाइक ने इसके जवाब में कहा था, ‘आंकड़े बताते हैं कि अमेरिका में यूनिवर्सिटी और काम पर जाने वाली 50 फीसदी औरतों का रेप होता है, क्यों? क्योंकि ज्यादातर अमेरिकी वर्कप्लेस पर सेक्स करते हैं. अगर आपको लगता है कि एक महिला का रेप होना चाहिए, यह आधुनिकता है तो इस्लाम पुरातनपंथी है. अगर आप सोचते हैं नहीं तो इस्लाम सबसे ज्यादा आधुनिक है.’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *