Breaking News

विजय माल्या की तरह देश छोड़कर भागने वाली हैं मायावती, बसपसुप्रीमो गद्दारों की नानी: स्वामी प्रसाद मौर्य

sawmi mayawww.puriduniya.com लखनऊ। स्वामी प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार को बीएसपी प्रमुख मायावती पर गंभीर आरोप लगाए. मौर्य ने कहा कि विजय माल्या की तरह मायावती भी हजारों करोड़ रुपये लेकर देश छोड़कर भागने वाली हैं. इसलिए विधायक बनने की ख्वाहिश रखने वाले लोग उनके झांसे में ना आएं और उन्हें टिकट के बदले पैसे न दें.

पिछले हफ्ते तक मायावती के सबसे भरोसेमंद कहे जाने वालेस्वामी प्रसाद मौर्य ने मायावती के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद कर दिया है. पिछले हफ्ते मायावती को दौलत की बेटी कहकर उनसे किनारा करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्या ने शुक्रवार को लखनऊ में एक बड़ी सभा करके अपना शक्ति प्रदर्शन किया. बहुजन समाज पार्टी के स्टाइल में की गई इस सभा में अच्छी खासी भीड़ जुटी. भीड़ से उत्साहित स्वामी प्रसाद मौर्य ने मायावती पर जमकर निशानी साधा.

मायावती पर साधा निशाना
मौर्य ने आरोप लगाया कि कांशी राम ने अपनी जिंदगी दलितों और वंचितों की लड़ाई लड़ते-लड़ते न्यौछावर कर दी. लेकिन मायावती उनकी विरासत को नीलाम करने में लगी हैं. मायावती को गद्दारों की नानी करार देते हुए स्वामी प्रसाद मौर्य ने दावा किया कि वह ऐसा जनसैलाब लेकर आएंगे कि मायावती उसमें डूब जाएंगी.

Loading...

मौर्य ने नहीं किया नई पार्टी का ऐलान
स्वामी प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार को भीड़ तो जुटा ली लेकिन ना तो अपनी नई पार्टी का ऐलान किया और ना ही बीएसपी से किसी विधायकों को तोड़ सके. पूर्व विधायक तो करीब दो दर्जन जुट गए लेकिन मौजूदा विधायक के नाम पर सिर्फ बनारस के विधायक उदयलाल मौर्य ही आए जिन्हें मायावती पहले ही पार्टी से निकाल चुकी हैं. हालांकि स्वामी प्रसाद मौर्य ने दावा किया कि बसपा से बगावत करने के इच्छुक कई विधायक उनके संपर्क में हैं. वह समय आने पर सामने आएंगे. दो दिन पहले ही बीएसपी छोड़ने वाले आरके चौधरी भी स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ नजर नहीं आए.

मौर्य 22 सितंबर को करेंगे रैली
मायावती से आगे की लड़ाई कैसे लड़ी जाए इसके लिए स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपने समर्थकों की राय मांगी. केजरीवाल की तरह उन्होंने भी जनता की राय पर आगे का रास्ता तय करने का ऐलान किया. 22 सितंबर को स्वामी प्रसाद मौर्य लखनऊ में एक बड़ी रैली करेंगे और अपने आगे की रणनीति का ऐलान करेंगे. माना जा रहा है कि उस दिन वह अपनी पार्टी की घोषणा भी कर सकते हैं. स्वामी प्रसाद मौर्य बीएसपी छोड़ने के बाद किसी दूसरी पार्टी का दामन थामने से पहले चाहते हैं कि अपनी इतनी ताकत बना ली जाए कि जो भी हो उनकी शर्तों पर हो.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *