Sunday , November 29 2020
Breaking News

टीम इंडिया के नए कोच अनिल कुंबले के कुछ अनसुनी बातें

anil-kumblewww.puriduniya.com नई दिल्ली। एक वैज्ञानिक थॉमल एडिसन ने सफलता के बारें में एक वाक्य कहा था कि सफलता के लिए ”99 प्रतिशत मेहनत और 1 प्रतिशत प्रेरणा” की जरुरत होती है। जोकि हर सफल व्यक्ति के लिए जरुरी है। जो कि जीनियस कहलाता है। यह जीनियस शब्द एक क्रिकेटर पर बिल्कुल फिट बैठता है। वो हैं अनिल कुंबले।

अनिल कुंबले एक ऐसे क्रिकेटर है जो कि लास्ट बॉल में मैच अपनी ओर मोड़ लेते हैं। भारत में अनिल कुंबले की तरह का कोई बॉलर नहीं है जो कि सामने खड़े बल्लेबाज को अपने स्पिन कौशल से मात दे दें।

पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज माने जाने वाले इंजमाम उल हक, एजाज अहमद, सलीम मलिक और यूसुफ युहाना जैसे खिलाड़ी भी कुंबले की गुगली के आगे नतमस्तक नजर आए थे। दिल्ली के घूमते हुए विकेट पर इन्हें कुंबले ने खूब नचाया था

Loading...

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में यह कारनामा केवल दो गेंदबाज ही कर पाए हैं। कुंबले से पहले इंग्लैंड के जिम लेकर ने एक पारी में 10 विकेट लिए थे। जो कि एक ऐतिहासिक कारनामा था। ऐसा करने वाले वे टेस्ट इतिहास के दूसरे गेंदबाज हैं।  जानिए अनिल कुंबले जिन्हे पूरी दुनिया ”जंबो” के नाम से जानती हैं, के बारें में कुछ खास बातें।

  • अनिल कुंबले का जन्म 17 अक्टूबर 1970 में कर्नाटक के बंगलुरु में कुष्णा स्वामी और सरोज के घर हुआ। इनकी शादी चेथना रामतीर्थ के साथ हुई। लेकिन बाद में किसी कारणवश तलाक हो गया। कुंबले एक बेटा मायस और दो बेटी आरुनी और स्वास्ती के पिता है। जो कि चेथना के पहले पति से थी।
  • कुंबले ने अपनी पढाई नेशनल कॉलेज बसावनागुडी से की इसके बाद 1992 में राष्ट्रीय विद्यालय कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से मैकेनिकल इंजीनियरिंग किया।
  • कुंबले के परिवार के लोग चाहते थे कि जंबो क्रिकेट खेले। जिसके कारण मात्र 13 साल की उम्र में वह क्रिकेट क्लब में शामिल हो गए।
  • कुंबले ने अपना पहला घरेलू मैच कर्नाटक के लिए हैदराबाद के खिलाफ मात्र 19 साल की उम्र में खेला था।
  • कुंबले भारत के सफलतम स्पिनर हैं। यह बात बहुत ही कम लोग जानते है कि उन्होनें अपने करियर की शुरुआत एक मध्यम गेंदबाज के रुप में की थी।
  • कुंबले केवल 10 टेस्ट मैचों में 50 विकेट लेने वाले भारत के सबसे तेज गेंदबाज बनें।
  • साल 1993 में कोलकाता के इंडेन गार्डन में भारत और वेस्ट इंडीज के बीच मुकाबला हुआ। जिसमें कुंबले ने सिर्फ 12 रन में 6 विकेट झटक लिए थे। जो कि भारतीय क्रिकेट में पहली बार हुआ था।
  • कुंबले कपिल देव के बाद भारत के दूसरे गेदबाज हैं जिन्होनें 400 टेस्ट विकेट लिए।
  • जंबो पहले भारतीय गंदबाज है जिन्होनें 30 से अधिक मौकों पर 5 से अधिक विकेट लिए।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *