Breaking News

ब्रेग्जिट: डेविड कैमरन पर बढ़ा इस्तीफे का दबाव

24 David-Cameronलंदन। ब्रिटेन की जनता ने यूरोपियन यूनियन पर हुए जनमत संग्रह में जो फैसला दिया है उससे प्रधानमंत्री डेविड कैमरन का भविष्य भी खतरे में पड़ गया है। नतीजे से खुश ईयू से अलग होने के पक्ष में पिछले 20 सालों से आंदोलन चला रहे UKIP नेता नाइजल फेराज ने कहा कि कैमरन को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। दूसरी तरफ मुख्य विपक्षी लेबर पार्टी ने भी कहा कि कैमरन के अपने पद को लेकर विचार करना चाहिए।

यदि ब्रिटेन के लोग यूरोपियन यूनियन में रहने के पक्ष में मतदान करते तो यह उनके लिए बड़ी जीत होती और कैमरन ताकतवर नेता के तौर पर उभरते। हालांकि दूसरी तरफ उनकी पार्टी में पद छोड़ने की आशंकाओं को देखते हुए 80 से ज्यादा कंजर्वेटिव सांसदों ने हस्ताक्षर कर कैमरन के पास पत्र भेजा है जिसमें इन्होंने आग्रह किया है कि नतीजे चाहे जो भी आए वह पीएम की कुर्सी पर बने रहें। ईयू से हटने की जीत से सबसे ज्यादा झटका ब्रिटेन की कंरसी पाउंड को लगा है। पाउंड 1985 के बाद सबसे निचले स्तर पर आ गया। ऐसे में कैमरन पर भारी दबाव है।

फेराज ने नतीजे आने का बाद सबसे पहले कहा कि उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। हालांकि लेबर पार्टी के शैडो फॉरन सेक्रटरी हिलरी बेन ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि कैमरन पीएम के पद पर कब तक बने रहेंगे। उन्होंने कहा, ‘आप प्रधानमंत्री हैं। आपने ही जनमत संग्रह कराया और आपकी प्रतिष्ठा दांव पर लगी थी। आपने ईयू में रहने के पक्ष में तर्क दिया था। ऐसे में आपके लिए पद पर रहना आसान नहीं है।’
प्रधानमंत्री ऑफिस के पूर्व सहयोगी ऐंडी कोल्सन ने कहा कि उन्हें कैमरन के इस्तीफे पर संदेह है। उन्होंने कहा, ‘बड़ी संख्या में लोग उनसे पद पर बने रहने की अपील कर रहे हैं। मसला यह है कि हमारे नेतृत्व को क्या करना चाहिए। यह समय नौसिखिए का नहीं है। लेकिन मुझे इस पर संदेह है कि कैमरन इस्तीफे पर विचार कर रहे हैं।’ UKIP सांसद डगलस कार्सवेल ने अपनी पार्टी के नेताओं की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि कहा कि कैमरन से इस्तीफे की मांग नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अच्छा होगा कि हम नाइजल को कुछ हफ्तों या महीनों तक नहीं सुनें।

Loading...

उन्होंने कहा, ‘यह हमारे लिए मुश्किल वक्त है। हमें थोड़ी गंभीरता दिखाते हुए राष्ट्रीय हित के बारे में सोचना चाहिए। डेविड कैमरन प्रधामंत्री हैं और वहा प्रधानमंत्री रहेंगे। उन्होंने एक साल पहले ही आम चुनाव में जीत हासिल की है। डाउनिंग स्ट्रीट की कमान उनके पास ही रहनी चाहिए।’ ब्रेग्जिट का समर्थन करने वाले कंजर्वेटिव सांसद ऐन्ड्रयू ब्रिडेन ने भी कहा कि यदि कैमरन इस्तीफा देते हैं तो यह देश हित में नहीं होगा। उन्होंने कहा कि इस हालत में हमें प्रधानमंत्री पर भरोसा करना चाहिए।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *