Breaking News

पाक विदेश कार्यालय ने गलती से जारी किया शोक संदेश

19abdul-sattar-edhiइस्लामाबाद। एक बड़ी गलती करते हुए पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने शनिवार को देश के विख्यात मानवप्रेमी समाजसेवी अब्दुल सत्तार ईधी के ‘निधन’ का शोक संदेश जारी कर दिया। हालांकि कार्यालय ने जल्दबाजी में इस बयान को वापस लेते हुए कहा कि यह गलत सूचना पर आधारित था। विदेश कार्यालय ने साथ ही एक माफी पत्र भी जारी किया।

विदेश कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, ‘हम उस प्रेस विज्ञप्ति को वापस ले रहे हैं, जो इस कार्यालय को दी गई गलत सूचना पर आधारित थी। असुविधा के लिए खेद है।’ ईधी ने दशकों पहले ईधी फाउंडेशन की स्थापना की थी। इस संस्था के पास एम्बुलेंस का देश का सबसे बड़ा दस्ता है और यह दर्जनों क्लीनिक एवं अनाथालय चलाती है।

88 वर्षीय इस समाजसेवी को सभी दलों का समर्थन प्राप्त है और उनका काफी सम्मान किया जाता है। इस शोक संदेश का शीर्षक था, ‘सत्तार ईधी: एक ऐसी आत्मा जिसने दूसरों के लिए जीवन जिया।’ इसमें प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज की तरफ से संदेश दिया गया था।
जारी किए जाने के आधे घंटे के भीतर ही वापस ले लिये गये इस संदेश में अजीज के हवाले से कहा गया था, ‘आज प्रख्यात मानवप्रेमी मौलाना अब्दुल सत्तार ईधी के दुखद निधन से पाकिस्तान में हर कोई तथा विदेशों में रहने वाले पाकिस्तानी तथा लाखों अन्य शोकजदा हैं। प्रख्यात ईधी साहब एक ऐसी आत्मा थे जिन्होंने अपना पूरा जीवन मानवता की सेवा वाले आदर्श उद्देश्य के लिए जिया। वह दूसरों के लिए जिये।’

Loading...

इससे पूर्व ईधी के पुत्र फैजल ईधी ने अपने पिता की मौत की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि उनके पिता का कराची के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। उनकी किडनी खराब होने के कारण उन्हें नियमित डायलिसिस के लिए अस्पताल लाया गया था। फैजल के अनुसार उनके पिता अब बेहतर महसूस कर रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *