Sunday , November 29 2020
Breaking News

राजन के फैसले से उद्योग जगत हुआ दुखी, फैसले को देश के लिए बताया नुकसानदेह

19 raghuramwww.puriduniya.com नई दिल्ली। देश के शीर्ष उद्योगपतियों ने कहा कि राजन का रिजर्व बैंक गवर्नर के तौर पर दूसरा कार्यकाल स्वीकार नहीं करने का फैसला देश के लिए नुकसानदेह होगा। उन्होंने कहा कि राजन ने इस पद पर रहते हुए आर्थिक स्थिरता लाई और वैश्विक मंच पर भारत की विश्वसनीयता बढ़ाई।

आनंद महिंद्रा, दीपक पारेख, एनआर नारायण मूर्ति, किरण मजूमदार शॉ, मोहन दास पई के नेतृत्व में भारतीय उद्योग जगत ने उम्मीद जताई है कि राजन के उत्तराधिकारी भी उनके द्वारा शुरू किए गए अच्छे काम को जारी रखेंगे हालांकि उद्योग मंडल सीआईआई और फिक्की ने इस घटनाक्रम पर टिप्पणी करने से इनकार किया। महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने इस घटनाक्रम पर कहा कि वह राजन के मौजूदा कार्यकाल के बाद पठन-पाठन के क्षेत्र में वापस लौटने का फैसला सुनकर दुखी हैं।

Loading...

वहीं एचडीएफसी के चेयरमैन दीपक पारेख ने कहा, ‘उनका जाना दुख की बात है। मुझे आश्चर्य है कि गवर्नर ने किन वजहों से यह फैसला किया। मुझे भरोसा है कि सरकार सही समय पर उन्हें और दो साल का कार्यकाल विस्तार देने पर विचार करेगी जैसा कि ज्यादातर गवर्नर को मिला है।’ राजन को दो और कार्यकाल का विस्तार देने की मांग करने वाले मूर्ति ने कहा कि वह इस घटनाक्रम से दुखी हैं।
बायॉकॉन की चेयरपर्सन और प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार शॉ ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन दूसरा कार्यकाल नहीं मांग रहे- शैक्षिक क्षेत्र के लिए यह लाभ की बात है लेकिन आरबीआई के लिए नुकसान। वह अपने पीछे आर्थिक स्थिरता की विरासत छोड़कर जा रहे हैं।’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *