Breaking News

UP: उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 11 सीटों का मतदान पूरा

pd logwww.puriduniya.com लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधायकों तथा मंत्री की नोंक-झोक तथा आरोप-प्रत्यारोप के बीच राज्यसभा की 11 सीटों पर मतदान पूरा हो गया है। अब 12 प्रत्याशियों को शाम के पांच बजे का इंतजार है, जब मतगणना होगी।

उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 11 सीटों के लिए आज लखनऊ के विधान भवन के तिलक हाल में मतदान पूरा हो गया है। 403 में से 401 विधायकों ने मतदान किया। दो विधायक बीमार होने के कारण मतदान नहीं कर सके।

विधान परिषद के बाद आज उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव में स्थिति बदतर हो गई है और मंत्री पवन पाण्डेय की विधायकों से भिड़ंत हो गई है जबकि विधायकों का आरोप है कि उनको जान से मारने की धमकी दी जा रही है।राज्य सभा चुनाव के दौरान लखनऊ के विधान भवन के तिलक हाल में जमकर बवाल हुआ है। समाजवादी पार्टी के विधायक भगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित और उनके भाई मुकेश शर्मा का वोट भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में डाला गया।

जिसके बाद सत्ता पक्ष तथा भाजपा में जमकर झड़प हुई। इतना ही नहीं मंत्री तेज नारायण पाण्डेय उर्फ पवन पाण्डेय तो गुड्डू पंडित तथा उनके भाई मुकेश शर्मा से भिड़ गये। गुड्डू पंडित बुलंदशहर के शिकारपुर तथा मुकेश शर्मा इसी जिले के डिबाई से समाजवादी पार्टी के विधायक हैं। इस बीच भारतीय जनता पार्टी की विधायक संगीता बाथम और एक अन्य महिला विधायक ने राज्य सभा चुनाव में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, शिवपाल यादव और प्रमुख सचिव पर जमकर धांधली कराने का आरोप लगाया।

कल से काफी चर्चा में समाजवादी पार्टी के विधायक भगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित तथा उनके भाई मुकेश शर्मा की आज मंत्री तेज नारायण पाण्डेय उर्फ पवन पांडेय से तीखी झड़प हो गई। आज भी शर्मा बंधुओं ने खुलकर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया है।

सपा के बागी विधायक गुड्डू पंडित ने बताया कि प्रदेश सरकार के मंत्री उनको वोट देने से रोकने में लगे हैं। लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही है। इनके अलावा भारतीय जनता पार्टी के विधायक विजय बहादुर ने समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया है। समाजवादी पार्टी के साथ ही भाजपा के विधायक एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। कुछ महिला विधायकों ने भी समाजवादी पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। विधायकों की तीखी झड़प मीडिया कैमरों में कैद हो गई है।

क्रॉस वोटिंग के क्रम में कांग्रेस विधायक अखिलेश प्रताप सिंह ने बीजेपी समर्थित प्रीति महापात्रा पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धनबल हारेगा और कांग्रेस का जनबल जीतेगा। उन्होंने दावा किया की कांग्रेस के प्रत्याशी कपिल सिब्बल को उम्मीद से ज्यादा वोट मिलेंगे। दूसरी तरफ रीता बहुगुणा जोशी ने भी दावा किया कि कांग्रेस के पास जरुरत से ज्यादा समर्थन है और कैपल सिब्बल की जीत तय है।

सपा ने लिया सबक

विधान परिषद के चुनाव में कल क्रॉस वोटिंग से समाजवादी पार्टी काफी हैरान है। पार्टी ने राज्यसभा के चुनाव में सबक लिया है। मंत्री पारसनाथ यादव ने कहा कि आज उसके सभी प्रत्याशी की जीत पक्की है। राज्य सभा चुनावों में क्रॉस वोटिंग की संभावना कम है।

11 सीटों के लिए 12 उम्मीदवार

उत्तर प्रदेश से राज्य सभा की 11 सीटों के लिए 12 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला आज होगा। इसके लिए विधान भवन के तिलक हाल में मतदान शुरू हो चुका है। मतदान शाम चार बजे तक चलेगा। वोटों की गिनती शाम पांच बजे से शुरू होकर परिणाम आने तक चलेगी।प्रत्येक विधायक को राज्यसभा के प्रत्याशी को वरीयता क्रम के अनुसार वोट का अधिकार है। इस चुनाव की खास बात यह है कि मतदाता प्रत्याशी या पार्टी के एजेंट को दिखाकर मतदान कर सकता है। वह एक से 11 वरीयता तय कर सकता है।

एक प्रत्याशी को सीधी जीत के लिए प्रथम वरीयता के 34 मतों की आवश्यकता होगी। प्रदेश में कल विधानपरिषद चुनाव में जबरदस्त क्रास वोटिंग से राज्य सभा के लिए सिरदर्दी बढ़ी दी है। सभी दल वोट का समीकरण नए सिरे से बनाने में देर रात तक बैठकें करते रहे।

राज्य सभा सदस्य के लिए अपने दो उम्मीदवार जिताने के लिए वैसे तो बसपा के पास कहीं ज्यादा वोट हैं लेकिन जिस तरह से परिषद चुनाव में पार्टी दूसरे दलों के 14 वोट झटकने में कामयाब रही है उसको देखते हुए साफ लग रहा है कि राज्यसभा चुनाव में भी उसके प्रत्याशियों को जरूरत से ज्यादा ही वोट मिलेंगे। पार्टी अपने सरप्लस वोट दूसरे दल के प्रत्याशियों को देती दिख नहीं रही है।

Loading...

चुनाव के मद्देनजर कल देर शाम पार्टी मुख्यालय में आयोजित बैठक में बसपा प्रमुख मायावती भी पहुंची। प्रत्याशी सतीश चंद्र मिश्र व अशोक सिद्धार्थ के अलावा प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर, नसीमुद्दीन सिद्दीकी सहित पार्टी के 80 में से 76 विधायक शामिल हुए।

सिब्बल की मुश्किलें बढ़ेगी

कांग्रेस के उम्मीदवार कपिल सिब्बल के लिए विधान परिषद चुनाव के नतीजे बेचैनी बढ़ाने वाले है। उम्मीद से कम मिली वोटों में इजाफा करना होगा। सिब्बल को प्रथम वरीयता की 34 वोट मिलनी चाहिए जबकि विधानपरिषद में कांग्रेस 26 वोट पर अटक गयी। जिसमें रालोद की चार वोट भी शामिल है जो सिब्बल के खाते नहीं होगी। सूत्रों के मुताबिक रालोद सिब्बल को एक वोट ही देगी।

क्रास वोटिंग से चौकन्ना समाजवादी पार्टी ने कल शाम विधायकों को प्रदेश कार्यालय बुलाया। जहां राज्यसभा के मतदान पर चर्चा हुई। विधायकों को मौखिक रूप यह भी बताया गया कि कौन-कौन सा विधायक किस प्रत्याशी को वोट दे।

भाजपा की परीक्षा

राज्यसभा चुनाव में अतिरिक्त उम्मीदवार उतारकर वोटिंग के हालात बना देनी वाली भाजपा की परीक्षा आज भी होगी। खासतौर से निर्दलीय उम्मीदवार प्रीती महापात्रा की जीत सुनिश्चित कराने के लिए भाजपा ने कल कानपुर रोड़ स्थित एक होटल में विधायकों की बैठक आहूत कर वोटिंग का तौर तरीका बताया है।

इनके भाग्य का फैसला आज

सपा : अमर सिंह, बेनी प्रसाद वर्मा, संजय सेठ, विशंभर प्रसाद निषाद, सुखराम यादव, रेवती रमण सिंह, सुरेन्द्र नागर

बसपा : सतीश चन्द्र मिश्र, अशोक सिद्धार्थ

कांग्र्रेस: कपिल सिब्बल

भाजपा : शिव प्रताप शुक्ल

निर्दल: प्रीति महापात्रा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *