Wednesday , November 25 2020
Breaking News

अमेरिकी कांग्रेस में बोले पीएम मोदी, भारत के पड़ोस में पनप रहा है आतंकवाद

09modi us

वॉशिंगटन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को जब अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्‍त सत्र को संबोधित किया तो उन्‍होंने आतंकवाद को सबसे बड़ा खतरा बताते हुए इशारों-इशारों में पाकिस्‍तान का जिक्र किया। उन्‍होंने कहा कि भारत के पड़ोस में आतंकवाद पनप रहा है। इसके साथ ही उन्‍होंने भारत और अमेरिका के बीच मजबूत रिश्‍तों की वकालत की।

आतंकवाद का खतरा और पाकिस्‍तान
मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा, ‘भारत के पड़ोस में आतंकवाद पनप रहा है और राजनीतिक फायदों के लिए आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों को सख्‍त संदेश देने के लिए मैं अमेरिकी कांग्रेस के सदस्‍यों की सराहना करता हूं।’ उन्‍होंने आगे कहा, ‘आतंकवाद का खतरा सबसे बड़ा है। भारत की पश्चिमी सीमा से लेकर अफ्रीका तक यह लश्‍कर-ए-तैयबा, तालिबान और आईएसआईएस जैसे कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है, लेकिन इसका एक ही सिद्धांत है जो हत्‍या, घृणा और हिंसा है। इसलिए हर हाल में आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करने की जरूरत है। जो मानवता में भरोसा करते हैं उन्‍हें एक साथ आकर इस खतरे के खिलाफ बोलने की जरूरत है।’


जरूरत के वक्‍त काम आया अमेरिका
प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में भारत और अमेरिका की दोस्‍ती का हवाला देते हुए अमेरिका की काफी तारीफ की। उन्‍होंने कहा, ‘आप हमारे साथ तब खड़े रहे जब हमें आपकी सबसे ज्‍यादा जरूरत थी। 2008 में मुंबई पर जब आतंकवादियों ने हमला किया था तब अमेरिकी कांग्रेस ने भारत को लेकर जो एकजुटता दिखाई, उसे भारत कभी नहीं भूलेगा।’

मजबूत रिश्‍तों की वकालत
भारत-अमेरिकी दोस्‍ती पर मोदी ने कहा, ‘अटल बिहारी वाजपेयी ने भारत और अमेरिका को स्‍वाभाविक सहयोगी (नेचरल अलाई) कहा था। इसमें कोई आश्‍चर्य नहीं है कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने दोनों देशों की दोस्‍ती को 21वीं सदी की अहम साझेदारी करार दिया है।’ उन्‍होंने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच मजबूत दोस्‍ती एशिया से लेकर अफ्रीका और हिंद महासागर से लेकर प्रशांत महासागर तक शांति, समृद्धि और स्‍थायित्‍व कायम कर सकती है।


मोदी के भाषण के दौरान कई बार तालियां बजीं

Loading...

अमेरिका के लिए जरूरी है भारत
मोदी ने कहा कि एक मजबूत भारत, अमेरिका के हित में ही है। उन्‍होंने कहा, ‘हम किसी भी देश से ज्‍यादा अमेरिका से व्‍यापार करते हैं। मैं अमेरिका को भारत के अनिवार्य पार्टनर के रूप में देखता हूं। हममे से कई लोगों का मानना है कि एक मजबूत और समृद्ध भारत ही अमेरिका के रणनीतिक हित में है। आपने पार्टनरशिप की दिशा में अवरोधों को पुल के रूप में तब्‍दील कर दिया।’

विवेकानंद, गांधी, आंबेडकर और मार्टिन लूथर किंग का जिक्र
कांग्रेस में अपने भाषण के दौरान मोदी ने स्‍वामी विवेकानंद, महात्‍मा गांधी, बाबा साहेब आंबेडकर और मार्टिन लूथर किंग का जिक्र किया। उन्‍होंने कहा कि महात्‍मा गांधी के अहिंसा के रास्‍ते ने मार्टिन लूथर किंग को प्रभावित किया। मोदी ने यह भी कहा कि बाबा साहेब आंबेडकर के व्‍यक्तित्‍व में करीब सौ साल पहले कोलंबिया यूनिवर्सिटी में उनके प्रवास का काफी अहम योगदान है।

मोदी ने जताया आभार
प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में अमेरिकी कांग्रेस के प्रति आभार जताया। उन्‍होंने कहा, ‘लोकतंत्र के इस मंदिर ने दुनिया के दूसरे लोकतंत्रों को प्रोत्‍साहित किया है और उन्‍हें सशक्‍त बनाया है। मुझे यह मौका देकर आपने दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र और इसकी सवा सौ करोड़ आबादी को सम्‍मानित किया है।’

 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *