Saturday , November 28 2020
Breaking News

सानिया-इवान की जोड़ी को हरा पेस -हिंगिस ने जीता फ्रेंच ओपन का खिताब

leander-paes-martina-hingiswww.puriduniya.com नई दिल्ली। भारतीय टेनिस स्टार लिएंडर पेस और स्विट्जरलैंड की उनकी जोड़ीदार मार्टिना हिंगिस ने फ्रेंच ओपन का मिश्रित युगल खिताब जीतकर करियर स्लैम पूरा किया। फाइनल में दो भारतीय पेस और सानिया मिर्जा आमने-सामने थे।

पेस और हिंगिस ने सानिया और क्रोएशिया के उनके जोड़ीदार इवान डोडिग की दूसरी वरीयता प्राप्त जोड़ी से पहला सेट गंवाने के बाद शानदार वापसी करके 46, 64, 108 से जीत दर्ज की। पेस और हिंगिस ने पिछले साल विंबलडन और यूएस ओपन के अलावा इस साल के शुरू में आस्ट्रेलियाई ओपन का खिताब भी जीता था और इस तरह से वे करियर स्लैम पूरा करने में सफल रहे। पेस ने अपने करियर में पहली बार फ्रेंच ओपन का मिश्रित युगल का खिताब जीता। यह उनका ग्रैंडस्लैम में ओवरआल दसवां खिताब है।

वह अब कुल 18 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके हैं जिनमें आठ पुरूष युगल के खिताब शामिल हैं।फ्रेंच ओपन में वर्ष 2012 की मिश्रित युगल चैंपियन सानिया और पेस ने कल रात सेमीफाइनल मुकाबले जीतकर दो भारतीयों के बीच मुकाबले की नींव रखी थी। पेस ने इस जीत से ओलंपिक में मिश्रित युगल में सानिया का जोड़ीदार बनने के अपने दावे को भी मजबूत कर दिया है।

पेस पुरुष युगल में पहले ही करियर स्लैम पूरा कर चुके थे और अब उन्होंने मिश्रित युगल में भी यह कारनामा करके भारतीय खेलों में नया इतिहास रचा। उन्होंने अपना यह खिताब अपने पिता और पूर्व हाकी खिलाड़ी वेस पेस को समर्पित किया। पेस ने कहा कि करियर ग्रैंडस्लैम एक व्यक्ति को समर्पित है और वह मेरे पिताजी हैं। मैं आपसे प्यार करता हूं और मुझे जिंदगी में सब कुछ देने के लिये आपका आभार। उन्होंने अपनी साथी हिंगिस और प्रतिद्वंद्वी टीम की भी तारीफ की। पेस ने कहा कि यह कोर्ट हिंगिस के साथ साझा करके वास्तव में खुशी हो रही है। सानिया और डोडिग को उन्होंने बेजोड़ चैंपियन कहा। पेस ने कहा कि जिस तरह से आप यहां तक पहुंचे वह अविश्वसनीय है।

Loading...

दोनों टीमों ने शुरू से ही एक दूसरे को कड़ी चुनौती दी। पहले सेट में लगातार नौ गेम तक उन्होंने अपनी सर्विस बचाये रखी। सानिया और डोडिग को आखिर में दसवें गेम में ब्रेक प्वाइंट का एक मौका मिला जिसे वे भुनाने में सफल रहे। पेस और हिंगिस ने दूसरे सेट में हालांकि शुरू में ब्रेक प्वाइंट लेकर वापसी की शानदार कोशिश की।

सानिया और उनके क्रोएिशयाई जोड़ीदार ने छठे गेम में ब्रेक प्वाइंट लेकर स्कोर 33 से बराबर कर दिया लेकिन पेस और हिंगिस ने अगले गेम में फिर से सर्विस तोड़कर बढ़त बना दी और फिर आगे तक इसे बरकरार रखकर मैच को बराबरी पर ला दिया। सुपर टाईब्रेकर में दोनों टीमों ने शुरू में पूरा दमखम दिखाया। एक समय स्कोर 55 से बराबरी पर था लेकिन पेस और हिंगिस ने यहां से बढ़त बनायी। इसके बाद फिर से 88 पर दोनों टीमें बराबरी पर थी लेकिन पेस और हिंगिस की अनुभवी जोड़ी ने लगातार दो अंक बनाकर खिताब अपने नाम किया।हिंगिस ने बैकहैंड से विनर जमाकर महिला युगल में अपनी जोड़ीदार सानिया को निराश किया।

हिंगिस ने बाद में कहा कि वह महिला युगल की अपनी जोड़ीदार सानिया के खिलाफ खेलना कभी पसंद नहीं करती। उन्होंने कहा कि एक दूसरे के खिलाफ खेलना कभी आसान नहीं होता है। टूर्नामेंट के शुरू में हमने कहा था कि यदि हम एक दूसरे के खिलाफ खेलेंगे तो वह फाइनल होना चाहिए। मुझे इस बार वास्तव में खेद है लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि हम आगे ढेर सारे मैच खेलेंगे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *