Sunday , November 29 2020
Breaking News

नेताजी सुभाष चंद्र बोस से जुड़ीं 100 फाइलें सार्वजनिक, मौत के रहस्य से उठेगा पर्दा?

domainनई दिल्ली। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जंयती के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार में उनसे जुड़ीं करीब सौ गोपनीय फाइलों को सार्वजनिक कर दिया। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने नेताजी को समर्पित netajipapers.gov.in का भी लोकार्पण किया, जिस पर ये सारे दस्तावेज अपलोड कर दिए गए हैं। इस मौके पर नेताजी के कई रिश्तेदार भी थे, जो प्रधानमंत्री से मिलने के दौरान काफी भावुक नजर आए। फाइलें सार्वजनिक होने के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि नेताजी की मौत के रहस्य से पर्दा उठ सकता है।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि सरकार ने अब नेताजी सुभाष चंद्र बोस से संबंधित 25 फाइलों की डिजिटल कॉपी को हर महीने सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, नेताजी की बेटी अनीता बोस को कांग्रेस की तरफ से 6000 रुपये सालाना मिलता था, लेकिन 1965 में उनकी शादी के बाद यह बंद कर दिया गया। नेताजी की पत्नी को भी ऐसी पेशकश की गई थी, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया था।

हमारे सहयोगी अखबार,इकनॉमिक टाइम्स के मुताबिक फाइलों में नेताजी के 1950 में देखे जाने की सोवियत न्यूज एजेंसी तास और जर्मनी के अखबारों में छपी कुछ खबरें भी हैं।

Loading...

इससे पहले सुबह प्रधानमंत्री ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि भारतीयों की पीढ़ियां उन्हें उनकी बहादुरी और देशभक्ति के लिए याद करती हैं। मोदी ने ट्वीट किया, ‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस को उनकी जयंती के अवसर पर याद कर रहा हूं। उनकी बहादुरी और देशभक्ति के कारण वे विभिन्न पीढ़ियों के भारतीयों के अजीज हैं।’ मोदी ने ट्वीट में आगे कहा, ‘आज सभी भारतीयों के लिए एक विशेष दिन है। नेताजी की फाइलों की गोपनीयता खत्म करने की शुरुआत आज से होती है।’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *