Wednesday , December 2 2020
Breaking News

US थिंक टैंक ने भारतीय PM की शान में पढ़े कसीदे, कहा- “जिस मोदी से कतराते थे लोग, आज मिलने को हैं आतुर”

01modi-obamaवॉशिंगटन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगले हफ्ते होने वाली अमरीका यात्रा से ठीक पहले शीर्ष अमेरिकी थिंक टैंक ने एक ऐसा चौंकाने वाला बयान दिया है, जिसने मोदी की शख्सियत को और ऊंचा कर दिया है। कार्नेगी एंडोमेंट फॉर इंटरनेशनल के एश्ले टेलिस ने मंगलवार ने कहा कि दो वर्ष पहले तक पीएम मोदी से मिलने से भी लोग हिचकते थे, लेकिन दो वर्ष के भीतर उनकी शख्सियत ऐसी हो गई है कि अब उनसे हर कोई संबंध बनाने के लिए आतुर है।

व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से बात करते हुए टेलिस ने कहा कि यह मोदी के उस व्यक्तिगत रिश्ते के बारे में बताता है, जो दोनों के बीच पिछले दो वर्षों के दौरान उन्होंने विकसित किया है। अमरीका के साथ मोदी के इतिहास को देखते हुए यह आश्चर्यजनक है। अपनी अमरीकी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री 8 जून को अमरीकी कांग्रेस की संयुक्त सभा को संबोधित करेंगे।

मोदी की कुशल नीति का इस बात से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि महज दो वर्ष के कार्यकाल में अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा से यह उनकी सातवीं मुलाकात हैं। कोई भी देश जो अमरीका का औपचारिक सहयोगी नहीं है उसके शासनाध्यक्ष के साथ बैठक के मामले में संभवत: यह मोदी और ओबामा दोनों के लिए एक रिकार्ड होगा।

मिलन कार्नेगी के वैष्णव ने कहा कि मोदी के व्यवहार में आया यह बदलाव काबिले तारीफ है। दो वर्ष पहले कानूनी बाधा के चक्कर में मोदी अमरीका की धरती पर कदम भी नहीं रख पाए थे और अब वे अमरीकी कांग्रेस की संयुक्त सभा को संबोधित करने वाले हैं।

Loading...

भारत-नेपाल में नीति थोड़ी कमजोर

मोदी की विदेश नीति को लेकर पूरे अंक देते हुए टेलिस ने कहा कि नेपाल और पाकिस्तान में ही उनकी नीति थोड़ी कमजोर दिखाई पड़ती है, लेकिन उनके शासनकाल के दौरान भारत की विदेश नीति सफल रही है। मोदी संबंधों को दूर तक ले जाने की सोच रखते हैं, यही वजह है कि वे केवल बातों में यकीन न रखकर अपने कार्य करने के लिए जाने जाते हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *