Thursday , November 26 2020
Breaking News

लव अफेयर की वजह से डॉक्टर पर महिला ने फेंका था तेजाब

acid-attack16www.puriduniya.com गाजियाबाद। वैशाली में एक महिला द्वारा एक डॉक्टर पर तेजाब फेंकने की घटना सामने आई थी। अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि घायल की हालत गंभीर है। उनके पेट और कमर का एक बड़ा हिस्सा जल चुका है। शुरुआती जांच से पता चला है कि महिला और डॉक्टर के बीच लव अफेयर चल रहा था और उनके बीच झगड़ा भी हुआ था।

डॉक्टर के कमरे से पुलिस को आरोपी महिला का पर्स और पीले रंग का दुपट्टा मिला है। घर में जिस तरह सामान बिखरा था, उससे लग रहा है कि दोनों के बीच झगड़ा भी हुआ था। सीओ (इंदिरापुरम) अतुल यादव ने बताया कि शुरुआती जांच में मामला प्रेस प्रसंग का लग रहा है। जिस महिला ने तेजाब फेंका है वह मेरठ की है और पता चला है कि उससे अमित का अफेयर चल रहा था। मामले की जांच की जा रही है।

मूलरुप से अलीगढ़ के रहने वाले अमित वर्मा वेटरनेरी डॉक्टर (पशु चिकित्सक) हैं। वह यहां वैशाली सेक्टर-4 में डॉग केयर क्लिनिक पर जॉब कर रहे हैं। उनके पिता रवि कुमार अलीगढ़ में केमिस्ट हैं। अमित ने 26 अप्रैल को यहां जॉइन किया था। उनके दोस्त और रूममेट दीपक ने बताया कि सोमवार सुबह करीब आठ बजे अमित क्लिनिक पर स्थित लिविंग रूम में लेटे हुए थे, तभी उनकी एक महिला दोस्त आई और उनपर तेजाब डालकर भाग गई। पड़ोसियों ने पुलिस को मामले की सूचना दी। मौके पर पहुंचे एसआई कमलेश उन्हें कौशांबी स्थित यशोदा अस्पताल ले गए। दीपक ने बताया कि रविवार शाम वह अपने गांव रोहतक चले गए थे। सोवमार सुबह जब वापस आए, तो उन्हें मामले की जानकारी मिली।

अमित के रूममेट दीपक ने बताया कि इससे पहले डॉ. अमित मेरठ में एक स्लॉटर हाउस में जॉब करते थे। वहीं शास्त्री नगर में वह एक महिला के घर पर कमरा लेकर किराए पर रहते थे। इस दौरान उस महिला से उनकी मुलाकात हुई थी। अमित का महिला से अफेयर था, वह उसकी आर्थिक मदद भी करते थे। उस महिला के बारे में अमित उन्हें बताया करते थे। जब अमित मेरठ छोड़कर यहां आने लगे, तो महिला ने विरोध किया। वह ऐसा नहीं चाहती थी। दीपक का कहना है कि यहां आए अमित को 18 दिन हुए हैं। इन 18 दिनों में तीन बार वह महिला उनसे यहां मिलने आ चुकी थी। वह हर बार अमित के लिए खाना बनाकर लाती थी और फिर दोनों यहां साथ में लंच करते थे। शनिवार को अमित के घर वाले उसका सामान लेने मेरठ गए थे। जिसके बाद वहां महिला ने सामान कमरे से बाहर निकलवाने से मना कर दिया।

Loading...

उसके बाद महिला शनिवार से लेकर रविवार रात तक अमित को लगातार फोन कर रही थी। इस दौरान उसने 100 से अधिक बार कॉल की, लेकिन अमित ने रिसीव नहीं किया। दीपक का कहना है कि अमित का एक अन्य महिला से भी अफेयर था। वारदात के बाद जब वह अस्पताल में उससे मिलने पहुंचे तो उन्होंने पूछा कि ऐसा किसने किया। इस पर अमित ने बताया कि मेरठ वाली आंटी आई थी। दीपक ने बताया कि वह उस महिला को आंटी कहता है। ऐसे में वह सारा खेल समझ गए।

वहीं मौके से मिले पर्स को जब उन्होंने खोलकर देखा तो पता चला कि उसमें मौजूद आईकार्ड किसी अन्य का है। ये आईकार्ड उसी अन्य महिला का था, दीपक का कहना है कि इससे यह साफ हो गया है कि आरोपी महिला पूरी तैयारी के साथ आई थी। वारदात के बाद उसने जानबूझकर पर्स वहीं छोड़ दिया जिससे पुलिस दूसरी महिला को अरेस्ट कर ले और वह बच जाए।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *