Thursday , November 26 2020
Breaking News

भारत के नक्शे वाले बिल पर तिलमिलाया पाकिस्तान, UN में की शिकायत

nawaz-angryइस्लामाबाद। भारत में कश्मीर के गलत नक्शे के खिलाफ कानून बनाने के लिए प्रस्तावित बिल से पाकिस्तान बिल्कुल तिलमिला गया है और उसने संयुक्त राष्ट्र (UN) में गुहार लगाई है। पाकिस्तान ने मंगलवार को इसे ‘अंतरराष्ट्रीय कानून’ का उल्लंघन करार देते हुए UN से दखल देने की मांग भी की।

पाकिस्तान के विदेश विभाग के मुताबिक, ‘न्यू यॉर्क में पाकिस्तान के स्थायी प्रतिनिधि ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद और संयुक्त राष्ट्र महासचिव को एक पत्र लिख कर भारतीय संसद में ‘द जियोस्‍पेशल इन्‍फर्मेशन रेग्‍युलेशन बिल 2016′ के ड्राफ्ट पर गहरी चिंता जाहिर की है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘यह यूएनएसी के प्रावधानों का उल्लंघन है। भारत के नक्शे में जम्मू कश्मीर के विवादित हिस्से को भी दिखाया गया है, जो कि तथ्यात्मक रूप से गलत है।’

विदेश विभाग ने बताया कि पाकिस्तान ने सुरक्षा परिषद से मांग की है वह भारत से ऐसे कदम न उठाने का आग्रह करे, जो अंतर्राष्ट्रीय कानून के खिलाफ है।
बता दें कि ‘द जियोस्‍पेशल इन्‍फर्मेशन रेग्‍युलेशन बिल 2016’ में कहा गया है कि भारत से जुड़ी कोई भी भौगोलिक जानकारी हासिल करने, प्रसारित करने, पब्लिश करने और वितरित करने से पहले सरकारी अथॉरिटी से अनुमति लेनी होगी।

इसमें कहा गया, ‘किसी भी शख्‍स को इंटरनेट प्‍लेटफॉर्म, ऑनलाइन सर्विसेज या किसी भी इलेक्‍ट्रॉनिक या फिजिकल फॉर्म में अंतरराष्‍ट्रीय सीमा सहित भारत की भौगोलिक स्थिति की जानकारी को गलत तरीके से प्रसारित, पब्लिश और वितरित नहीं करना चाहिए।’ बिल में आगे कहा गया, ‘अगर कोई भी कानून का उल्‍लंघन कर भारत की भौगोलिक स्थिति की गलत जानकारी हासिल करता है तो उस पर एक करोड़ रुपये से लेकर 100 करोड़ रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। इसके साथ ही उसे 7 साल की सजा भी हो सकती है। ‘

Loading...

भारत सरकार की योजना भारत की भौगोलिक स्थिति से जुड़ी जानकारी के लिए एक सिक्‍यॉरिटी जांच अथॉरिटी बनाने की है। इस अथॉरिटी के जरिए तय वक्‍त के भीतर तय नियमों के मुताबिक सुरक्षा जांच की जाएगी। इस अथॉरिटी में जॉइंट सिक्‍यॉरिटी रैंक का भारत सरकार का कोई अधिकारी होगा। इसके अलावा 2 सदस्‍य होंगे जिनमें एक टेक्निकल एक्‍सपर्ट और दूसरा नैशनल सिक्‍यॉरिटी एक्‍सपर्ट होगा।

हाल में ही कुछ सोशल नेटवर्किंग साइट्स ने जम्‍मू कश्‍मीर को पाकिस्‍तान और अरुणाचल प्रदेश को चीन के हिस्‍से के तौर पर दिखा दिया था। ट्विटर ने कश्‍मीर की भौगोलिक स्थिति चीन में दिखा दी थी और जम्‍मू को पाकिस्‍तान का हिस्‍सा बता दिया था। तब सरकार की तरफ से इस पर जबर्दस्‍त विरोध जताया गया था और फिर ट्विटर ने अपनी गलती सुधारी थी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *